बसपा-जोगी कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी ने किया भाजपा प्रवेश

बसपा-जोगी कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी ने किया भाजपा प्रवेश

Nakul Ram Sinha | Publish: Nov, 10 2018 05:19:34 PM (IST) Rajnandgaon, Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

जोगी-बसपा गठबंधन की खुली गांठ

राजनांदगांव / डोंगरगांव. भाजपा की रीति नीति व डोंगरगांव विधानसभा प्रत्याशी मधुसूदन यादव की मिलनसारिता, कार्य कुशलता, सक्षम नेतृत्व को देखते बहुजन समाज पार्टी के विधानसभा प्रत्याशी अशोक वर्मा ने कल भाजपा प्रवेश कर लिया। कल डोंगरगढ़ विकासखंड के ग्राम पुरैना में भाजपा प्रत्याशी मधुसूदन यादव की सभा थी। इस दौरान वर्मा ने प्रवेश लिया। भाजपा प्रत्याशी यादव ने उनको भगवा गमछा पहनाकर पार्टी में स्वागत किया। इस दौरान प्रदेश किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष भरत वर्मा, जिलाध्यक्ष मूलचंद लोधी, भाजपा मंडल अध्यक्ष जयपाल सिन्हा, भाजयुमो मंडल अध्यक्ष प्रशांत कोडापे सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण कार्यकर्ता मौजूद थे।

जोगी कांग्रेस के सैकड़ो कार्यकर्ताओं छोड़ी पार्टी
ज्ञात हो कि समझौते में बहुजन समाज पार्टी को यह सीट जोगी कांग्रेस से मिली थी, लेकिन समझौते की घोषणा के बाद से ही जोगी कांग्रेस के अनेक नेताओं और कार्यकर्ताओं ने जोगी कांग्रेस का दामन छोड़कर अन्य पार्टी ज्वाइन कर ली थी। वहीं अनेक लोग चुपचाप घर बैठ गए थे। ऐसे में बसपा और जोगी कांग्रेस के संयुक्त प्रत्याशी अशोक वर्मा को संसाधनों के साथ कार्यकर्ताओं की कमी से भी जूझना पड़ रहा था।

पार्टी से नहीं मिल रहा था कोई सहयोग
कल भाजपा प्रवेश के बाद अशोक वर्मा ने कहा कि मुझे बसपा और जोगी कांग्रेस द्वारा विधानसभा का प्रत्याशी तो बना दिया किंतु किसी प्रकार का कोई सहयोग नही दिया जा रहा था, सहयोग मांगने पर उल्टा मुझसे ही मुद्रा की मांग की जा रही थी। किसी प्रकार मैंने अपनी जमा पूंजी के बल पर क्षेत्र में इतने दिन प्रचार प्रसार को संभाले रखा लेकिन अब कहीं से भी कोई सहयोग न मिलने से वे हताश और परेशान थे। उन्होंने यह भी कहा मैं आज से भारतीय जनता पार्टी के लिए नि:स्वार्थ भाव से कार्य करूँगा।

जोगी कांग्रेस की ओर से मिला प्रलोभन
उन्होंने भरे सभा में आरोप लगाया अपनी फजीहत होती देख कल जोगी कांग्रेस छत्तीसगढ़ के कतिपय कर्ताधर्ताओं द्वारा उन्हें भाजपा प्रवेश न करने के लिए 20 लाख रुपये का प्रलोभन दिया गया। लेकिन उन्होंने मधुसूदन यादव के व्यक्तित्व और भाजपा की रीति नीति के आगे इस प्रलोभन को ठुकरा दिया। अब मतदान के चार दिन पूर्व प्रमुख राजनीतिक दल के प्रत्याशी द्वारा भाजपा का दामन थाम लेने से भाजपा को फायदा होने सहित लोधी और कुर्मी वोटों का सीधा फायदा भाजपा को पहुंचने के कयास लगाए जा रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned