कोरोना पॉजीटिव युवक का भाई क्वारेंटाइन की जगह मोहल्ले में कुत्ता घुमाता मिला, कलेक्टर के आदेश पर FIR, वसूला 10 हजार जुर्माना

कोरोना पॉजीटिव युवक का भाई होम क्वारेंटाइन (Quarantine in Rajnandgaon) में रहने की बजाय मोहल्ले में कुत्ता लेकर घुमता नजर आया। जिसके बाद लोगों में हड़कंप मच गया। (Coronavirus in chhattisgarh)

By: Dakshi Sahu

Published: 27 Mar 2020, 02:30 PM IST

राजनांदगांव. जिले में कोरोना पॉजीटिव मरीज मिलने के बाद लोग लापरवाही बरतने से बाज नहीं आ रहे हैं। गुरुवार शाम को कोरोना पॉजीटिव युवक का भाई होम क्वारेंटाइन में रहने की बजाय मोहल्ले में कुत्ता लेकर घुमता नजर आया। जिसके बाद लोगों में हड़कंप मच गया। लोगों ने इसकी शिकायत तुरंत कलेक्टर और पुलिस में की। जिसके बाद कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने शुक्रवार केा होम क्वारेंटाइन में रह रहे युवक के खिलाफ एफआईआर करने और दस हजार रुपए जुर्माना वसूलने के निर्देश दिए हैं। बता दें कि कोरोना पॉजीटिव युवक के पूरे परिवार को होम क्वारेंटाइन में रखा गया है। बावजूद इतनी बड़ी लापरवाही से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग भी सकते में है। इसके पहले कोरोना पॉजीटिव युवक के खिलाफ भी अपराध दर्ज किया गया है।

शहर में कोरोना पाजिटिव केस सामने आने के बाद प्रशासन ने विदेश से लौटे लोगों को लेकर सख्ती तेज कर दी है। बुधवार रात और फिर गुरुवार को एक-एक कर ऐसे लोगों का चिह्नांकन कर उन्हें उनके होम आइसोलेशन से निकालकर क्वारेंटाइन सेंटर भेजा गया है। दूसरी ओर होम आइसोलेशन के नियमों का उल्लंघन करने के मामले में प्रशासन ने कोरोना पॉजीटिव आए युवक के खिलाफ एफआईआर भी करा दिया है। इस बीच खबर आई है कि कोरोना पाजिटिव युवक के परिवार के सदस्यों का सैंपल निगेटिव आया है। हालांकि ये अभी संक्रमण काल के दायरे के भीतर ही हैं।

Read more: होम आईसोलेशन की धज्जियां उड़ाकर खुलेआम घुम रहे थे विदेश से आए दो युवक, पुलिस ने किया अपराध दर्ज ....

सौ लोग लौटे हैं विदेश यात्रा से
राजनांदगांव जिले के लगभग 100 लोग विदेश यात्रा कर यहां वापस लौटे हैं। प्रशासन ने ऐसे सभी लोगों को होम आइसोलेशन में रहने के निर्देश दिए थे लेकिन कई लोग लापरवाही बरत रहे थे और शहर में घूम रहे थे। ऐसे ही होम आइसोलेशन में रहने के दौरान बाहर निकलकर घूम रहे भरकापारा के युवक में कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद प्रशासन पूरी तरह सख्त हो गया है। ऐसे सभी लोगों को उनके घरों से निकालकर क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया है। कुछ लोग पैड क्वारेंटाइन सेंटर में हैं जबकि कुछ को सरकारी क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम निगरानी में जुटी है।

निगेटिव आई है रिपोर्ट
कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने जानकारी दी कि कोरोना पीडि़त युवक के परिवार के सदस्यों के सैंपल की जांच रिपोर्ट आ गई है। सभी सदस्यों की जांच रिपोर्ट निगेटिव पाई गई है। हालांकि कलक्टर मौर्य ने बताया कि परिवार के सभी सदस्य अभी भी संक्रमण काल में है। इन सभी को 28 दिन कड़े आइसोलेशन में रहना होगा। 28 दिन बाद फिर इनके सैंपल की जांच कराई जाएगी। इसके बाद ही वे कोरोना वायरस के खतरे से पूरी तरह बाहर हो सकते हैं। प्रशासन ने इन्हें अपनी निगरानी में रखा है।

जानकारी छिपाने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी
कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने लापरवाही बरतने वाले कोरोना पॉजीटिव मरीज के खिलाफ एफआईआर कराया है। प्रशासन ने कहा है कि विदेश से आने के बाद प्रशासन को गुमराह कर इधर-उधर घूमकर लोगों में संक्रमण का खतरा पैदा करने को लेकर एफआईआर कराई गई है। प्रशासन ने जानकारी छिपाने वाले अन्य लोगों पर भी एफआईआर दर्ज करने की बात की है।

काम वाली बाई को भेजा क्वारेंटाइन में
जिले से कोरोना पॉजीटिव के रूप में चिह्नांकित भरकापारा का युवक थाइलैंड से लौटा था। इस युवक को घर में भी आइसोलेट रहने की हिदायत दी गई थी लेकिन यह लगातार शहर में घूम रहा था और वह सैकड़ों लोगों से मिला है। इस युवक की इस हरकत के चलते शहर में दहशत का माहौल है। इसके घर में काम करने वाली महिला को भी क्वारेंटाइन सेंटर भेजा गया है। यह महिला और भी कई जगहों पर काम करती है। ऐसे में लोगों में दहशत का माहौल है।

coronavirus
Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned