लो-वोल्टेज और पानी से बढ़ी वार्डवासियों की चिंता, क्षेत्र की समस्या सुनने वाले कोई नहीं ...

व्यवस्था सुधारने में बिजली कंपनी की लापरवाही, चक्काजाम की तैयारी में ग्रामीण

By: Nitin Dongre

Published: 20 Jul 2020, 08:04 AM IST

गंडई-पंडरिया. नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में अघोषित बिजली कटौती से ग्रामीणों का जीना मुहाल हो गया है। लो-वोल्टेज से कई विद्युत उपकरण खराब भी हो गए। व्यापारियों की भी परेशानी बढ़ गई है। गर्मी और उमस में लोग हलाकान हो रहे हैं। क्षेत्र की इस समस्या को सुनने वाला विद्युत वितरण कंपनी में कोई नहीं है। जनप्रतिनिधि भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे। आक्रोशित ग्रामीण अब मामले को लेकर चक्काजाम करने की तैयारी में हैं। ग्रामीणों ने बताया कि कभी दिनभर बिजली बंद रहती है, तो कभी आधी रात को बिजली चली जाती है। ये हाल ग्रामीण क्षेत्रों में रोजाना हो रहा है।

बिजली आफिस के सामने ग्रामीण कर सकते है चक्काजाम

ग्रामीण सूत्रों से जानकारी मिली है की बिजली कटौती से परेशान गांवों के ग्रामीणों ने बिजली घर पर ही ताला लगाने का निर्णय लिया है। ग्रामीण बिजली घर पर ताला लगाकर बेमियादी धरने पर बैठेंगे। गांवों में बिजली की बिगड़ी व्यवस्था से ग्रामीण बेहद परेशान हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि बिजली विभाग उनसे बिल का शुल्क पूरा लेता है, लेकिन गांवों में अक्सर घंटो-घंटो तक की कटौती रहती है। आरोप है कि अधिकारी सुविधा शुल्क के नाम पर किसानों से अवैध वसूली करने में लगे हुए हैं। इसको लेकर किसानों ने मोर्चा खोलने का ठाना है।

जल संकट से भी जूझ रहे

पिछले हफ्ते भर से जलघर की बिजली गुल होने से कस्बे में पेयजल संकट गहराया हुआ है। बिजली की कटौती होने के चलते जलघर से पेयजल आपूर्ति नहीं की जा रही और इसके चलते हजारों की आबादी को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है। ज्ञातव्य है की नगर के पास में ही स्थित भुरभूसी गोकना के ग्रामीण पेयजल की समस्या से जूझ रहे हैं। लोगों को नलों से पानी नहीं मिल पा रहा है। ग्रामीणों को लगभग 200 मीटर दूर नगर पंचायत क्षेत्र गंडई के वार्ड 14 स्थित निकाय के नल से पानी लाना पड़ रहा है। गांव के ही शिक्षक देवीदीन साहू और सचिव झुमुक साहू के निजी बोर से गांव के लोग पीने का पानी ला रहे हंै।

समस्या ठीक हो जाएगी

जेई गंडई अमन नेताम ने कहा कि ओवरलोड की समस्या आ रही है। लोड सेटिंग करना पड़ रहा है। बोर पंप और बस्ती को अलग करने का कार्य जारी है। जल्द ही समस्या ठीक हो जाएगी।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned