लॉकडाउन के चलते कूलरों की मरम्मत में देरी, गर्मी में उबल रहे मरीज

मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सौ कूलरों की आवश्यकता, ज्यादातर खराब पड़े

By: Govind Sahu

Published: 18 Apr 2020, 08:30 PM IST

राजनांदगांव. मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती मरीज गर्मी से उबल रहे हैं। उमस और पसीने के मारे उनका बुरा हाल है। वार्डों में बेड पर मरीजों का रहना मुश्किल हो रहा है। कूलरों में खराबी है, इसलिए नहीं चल रहे। ज्यादातर कूलरों में मरम्मत की आवश्यकता है। प्रबंधन की ओर से वार्डों में लगाए कूलर शो-पीस बने हुए हैं। वहीं पंखों से गर्म हवाएं आ रही है। अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि दो-चार दिन में सभी कूलर चालू हो जाएंगे।


मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कूलर के अभाव में वार्डों में भर्ती मरीजों का बुरा हाल है। वह तड़प रहे हैं। शनिवार को उमस के मारे उनकी बेचैनी बढ़ गई थी। परिजन भी परेशान थे। परेशान मरीज व परिजन कूलर चालू करवाने बार-बार कह रहे थे, लेकिन उनकी बातों को अनसुना कर दिया जा रहा था।

सूत्रों की माने तो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सौ कूलरों की आवश्यकता है, लेकिन वर्तमान में ज्यादातर कूलर मरम्मत के अभाव खराब पड़े हुए हैं। किसी की मोटर खराब है, तो किसी का पंखा गायब है। खस भी बदलने की जरूरत है। वार्ड में रखे कूलर शो-पीस बने हैं।

सबसे अधिक समस्या मेडिकल और चिल्ड्रेन वार्ड में
मेडिकल कॉलेज अस्पताल के मेडिकल और बच्चा वार्ड में भर्ती मरीजों और उनके परिजनों को ज्यादा परेशानी हो रही है। मरीजों को राहत देने के लिए अस्पताल के प्रत्येक वार्ड में छह से ज्यादा कूलरों की आवश्यकता है, कूलर लगे तो हैं, लेकिन चल नहीं रहे। पुरुष मेडिकल वार्ड में भर्ती मरीजों ने बताया कि वे करीब सप्ताहभर से भर्ती हैं, लेकिन एक भी दिन अब तक एक भी दिन कूलर नहीं चला है। पंखे गर्म हवा दे रहे। उमस और गर्मी के कारण बेचैनी सी लगती है।

नहीं मिल रहा था सामान
प्रबंधन की माने तो लॉकडाउन होने की वजह से बाजार में सामान नहीं मिल रहे। वहीं कूलरों को मरम्मत करने वाले कर्मचारी भी नहीं आ रहे थे। इस वजह से कूलरों के मरम्मत में थोड़ी देरी हो गई। अब मरम्मत शुरू करा दिया गया है। दो-चार दिन में सारे कूलर चालू करा दिए जाएंगे।

तापमान ४० के पार, बेचैनी बढ़ी
मई का महीना चल रहा। तापमान ४० के पार पहुंच चुका है। इस भारी तापमान में मरीज अस्पताल में पंखे के भरोसे रह रहे हैं। इसके अलावा स्टाफ नर्स और डाक्टरों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

मामले में मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अधीक्षक डॉ. प्रदीप बेक ने बताया कि लॉकडाउन होने की वजह से कूलरों के मरम्मत में देरी हो गई। जल्द ही सारे वार्डों में कूलरों को चालू कर दिया जाएगा।

Govind Sahu Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned