बैनर, पोस्टर व नारे लगाकर लोगों में जागरूकता लाने किया प्रयास

विश्व एड्स दिवस पर जिले के विभिन्न स्थानों पर जागरूकता रैली निकाली गई और कार्यक्रमों का किया गया आयोजन

By: Nakul Sinha

Updated: 03 Dec 2019, 11:46 AM IST

राजनांदगांव / सोमनी. मुख्य चिकित्सा अधिकारी राजनांदगांव एवं छत्तीसगढ़ राज्य एड्स नियंत्रण समिति, रायपुर के मार्गदर्शन मे जन कल्याण सामाजिक संस्थान राजनांदगांव द्वारा विश्व एड्स दिवस पर जिले के विभिन्न स्थानो पर जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। राजनांदगांव ब्लॉक के पटेवा मे टेंट लगाकर हस्ताक्षर अभियान चलाया गया जिसमे मितानिन, पंचायत प्रतिनिधि, आगनबाड़ी कार्यकर्ता, युवा, महिला, पुरूषों को रेड रिबन बांधकर तथा हस्ताक्षर कराकर जागरूक करने का प्रयास किया गया। डोंगरगांव विकासखंड के आरी एवं डोंगरगांव मे संगोष्ठी, खैरागढ विकासखंड के अमलीडीह मे संगोष्ठी, डोगरगढ़ विकासखंड के ठाकुरटोला एवं कटली मे संगोष्ठी एवं रैली, छुईखदान ब्लॉक के पुरैना मे संगोष्ठी के कार्यक्रम का आयोजन किया गया। रैली में एचआईवी एड्स संक्रमण के कारण व बचाव के उपाय संबंधी बैनर व पोस्टर के नारों के माध्यम से जागरूकता का प्रयास किया गया एवं जन समुदाय को प्रचार प्रसार संबंधी पांप्लेट वितरित किया गया। संगोष्ठी कार्यक्रमों के माध्यम से एचआईवी एड्स संक्रमण के चार कारणो व संक्रमण से बचाव के उपाय की जानकारी दी गई।

एचआईवी संक्रमण फैलने के बताए कारण
एचआईवी एड्स संक्रमण के चार कारणों में बताया गया कि पहला असुरक्षित यौन संबंध बनाने सेे, दूसरा संक्रमित रक्त किसी अन्य व्यक्ति को चढ़ाने से, तीसरा संक्रमित सुई या सीरिंज के दोबारा प्रयोग करने से, चौथा संक्रमित गर्भवती माता से होने वाले शिशु को। एचआईवी एड्स संक्रमण के चार कारणों से बचाव के उपाय की जानकारी भी दी गई जैसे सुरक्षित यौन संबंध बनाने से अर्थात् कंडोम के प्रयोग से, जांचा-परखा रक्त चढ़ाने से, नये सुई या सीरिंज के प्रयोग से, संक्रमित गर्भवती माता का संस्थागत प्रसव या चिकित्सकीय देखरेख में प्रसव कराने से।

लिंक वर्कर स्कीम परियोजना चल रही है
संस्था के अध्यक्ष एवं सामाजिक कार्यकर्ता योगेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि जन कल्याण सामाजिक संस्थान विगत बारह वर्षों से एचआईवी एड्स की रोकथाम के लिए कार्य कर रही है। वर्तमान मे लिंक वर्कर स्कीम परियोजना के माध्यम से जिले के छ: विकासखंडों के 100 ग्रामों में महिला यौनकर्मी, हिजड़ा समुदाय, पलायनवादी, ट्रकरर्स, युवा आदि के लिए सघन रूप से कार्य किया जा रहा है। लिंक वर्कर परियाजना मे एचआईवी एड्स के लिए वातावरण निर्माण करना, स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ जोडऩा, सरकारी योजनाओं के साथ जोडऩा, समाज में एचआइवी एड्स से संक्रमित लोगों के लिए अनुकुल वातावरण का निर्माण करना, कंडोम के प्रति लोगों को प्रोत्साहित करना प्रमुख है।

आम जनता तक संदेश पहुंचाया गया
इन आयोजनो के क्रियान्वयन के लिए 25 से अधिक कार्यकर्ताओं की मदद ली गई जिससे आम जनता तक एचआईवी एड्स का संदेश पहुंच सके। कार्यक्रमों के सफल क्रियान्वयन में डीआरपी जितेंद्र कुमार जंघेल, सुपरवाइजर्स- तीलेश्वरी साहू, भीमसेन साहू एवं लिंक वर्कर, टुम्मन साहू, ओमेश्वरी, जीतेश्वरी साहू, अनिता गिरिया, चमेली, कांति कोसरे, संगीता तिवारी, गोपाल दास साहू, दुर्गा निषाद, कंचना, ललिता, आशा, कामनी, सवित्री का महत्वपूर्ण योगदान रहा। यह जानकारी कार्यक्रम के जिला श्रोत व्यक्ति जितेंद्र जंघेल ने दी।

Nakul Sinha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned