अतिक्रमणकारी की दबंगता से नपा कर्मचारी बिना कार्रवाई के वापस लौटे

अतिक्रमणकारी की दबंगता से नपा कर्मचारी बिना कार्रवाई के वापस लौटे

Nakul Ram Sinha | Updated: 14 Jul 2019, 01:01:00 PM (IST) Rajnandgaon, Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

ग्रामीण वार्ड बधियाटोला का मामला

राजनादगांव / डोंगरगढ़. मेन रोड से बधियाटोला प्रायमरी स्कूल के बीच आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित है। इस आंगनबाड़ी के पीछे जो सरकारी जमीन है, इस जमीन पर बच्चों के लिए समतल मैदान की मांग पार्षद के माध्यम से महिला साई समिति द्वारा किया गया था लेकिन इस जमीन पर सीधे दबंगई से कब्जा किया जा रहा है। जिस पर महिला समिति ने इसका विरोध किया। इस दबंग अतिक्रमण धारी ने कब्जा हटाने से मना कर दिया, मजबूरन हो ये महिला समिति ने पार्षद पति के साथ नपा अधिकारी को समस्याओ से अवगत कराया। तब अधिकारी ने नपा के कर्मचारी को कब्जा हटाने के लिए भेजा, नपा कर्मचारी उस जगह गए पर अतिक्रमणकारी की दबंग इतना की एक फोन से नपा कर्मचारी को बिना कब्जा हटाया उलटे पैर वापस आना पड़ा। अगर यह अतिक्रमण नही हटाया गया तो इन परिस्थिति में महिला समिति और स्कूली छात्र-छात्राओं के साथ बधियाटोला में रोड चक्काजाम किया जाएगा। इसकी जवाबदेही नपा प्रशासन की होगी। इस दौरान महिलाओं में सरस्वती महोबिया, नंदा बाई निषाद, सुनैना गुप्ता, मिथिलेश गुप्ता, अनिता देवी, शालू जामबूलकर, हितेश्वरी सिन्हा सहित बधियाटोला महिला सांई समिति की महिलाएं उपस्थित रही।

अतिक्रमण नहीं हटा तो करेंगे चक्काजाम
महिलाओं का यह कहना है जब यही सरकारी जमीन आंगनबाड़ी के लिए है तो इसे कैसे कब्जा कर सकते है। इस कब्जाधारी लोगों को कौन से अधिकारी व कौन से नेतागण का हाथ है जिससे नपा कर्मचारी बिना कार्रवाई किए वापस जाना पड़ा। शायद अब लगता है कि वर्तमान समय जब सरकारी जमीन पर सीधे तौर पर बच्चों के खेलने के मैदान पर कब्जा नपा प्रशासन की हिम्मत इन महिलाओं के द्वारा शिकायत करने के बाद भी सरकारी जमीन पर कब्जा नही हटाया जा सका तो इससे यह पता चलता है कि समाज के जनता के मूलभूत अधिकार क्षेत्र से ये नेता तो बन जाते है जब यही नेता इन कब्जाधारी को हटाने जाते है तो ये नेता इस कार्रवाई को ना करने अधिकारी के हाथ बांध देते है। इस बात को उठाते हुए युवा संघर्ष समिति डोंगरगढ़ अध्यक्ष ने पार्षद से बात की तो पार्षद ने बताया कि कब्जा हटाने के लिए नपा कर्मचारी आए थे पर कब्जा क्यों नही हटाया गया इसकी जानकारी नपा आधिकारी दे पाएंगे। जहां तक शिकायत है महिला समिति के द्वारा दिया गया पत्र नपा आधिकारी के समक्ष रखा गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned