डायरिया से मौत के बाद भी छुईखदान में सफाई व्यवस्था है बदहाल

डायरिया से मौत के बाद भी छुईखदान में सफाई व्यवस्था है बदहाल

Nitin Dongre | Publish: Sep, 03 2018 04:53:44 PM (IST) Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

लाखों खर्चा करने के बाद भी गंभीर नहीं नगर पंचायत

राजनांदगांव/ छुईखदान. छुईखदान नगर में डायरिया से एक व्यक्ति की मौत हो जाने के बाद भी नगर पंचायत साफ पानी की सप्लाई व सफाई व्यवस्था को लेकर गंभीर नहीं हुआ है। यही कारण है कि यहां अब भी अव्यवस्था का आलम है। नगर पंचायत एक तरह से लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहा है।

हाल ही में नगर के वार्ड १५ टिकरीपारा डायरिया फैलने से एक व्यक्ति की मौत हो गई है। ७० लोग पीडि़त हुए थे, जिनका स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र में इलाज जारी है। हालांकि मरीजों की स्थिति में सुधार है। इधर जिस बोर के पानी को पीकर लोग बीमार पड़े थे, उसे बोर के पानी का सैंपल स्वास्थ्य विभाग ने जांच के लिए भेज दिया है।

ज्ञात हो कि नगर की सफाई के लिए कर्मचारी मुहैय्या कराने रायपुर की एक प्लेसमेंट कंपनी को ठेका दिया गया है। सफाई में २० कर्मचारी लगे हुए हैं। इन कर्मचारियों को कलक्टर दर भुगतान किया जाता है। कर्मचारियों के भुगतान के हिसाब से कंपनी को कमीशन मिलता है। इन कर्मचारियों को करीब १३ लाख रुपए सलाना भुगतान किया जाता है। इसके बाद भी नगर की सफाई व्यवस्था बदहाल है। २० कर्मचारी होने के बाद नगर पंचायत के अफसर कर्मचारियों की कमी होने का हवाला दे रहे हैं। मिली जानकारी अनुसार सीएमओ नगर का भ्रमण ही नहीं करते। आए दिन बैठक में या बाहर होने की जानकारी मिलती है।

नगर में चहुंओर फैली है गंदगी

सफाई के लिए तैनात २० कर्मचारियों में से ३-४ कर्मचारी रोज छुट्टी पर रहते हैं। यही कारण है कि नगर के चौक-चौराहों व नालियों की नियमित सफाई नहीं हो पा रही है। बाजार लाइन के पीछे, ब्राह्मण पारा, महोबिया पारा, नकक नगर, कर्रापारा, टिकरीपारा, मुस्लमान मोहल्ला में गंदगी का आलम है। जबकि घर-घर कचरा कलेक्शन के लिए भी समूह की महिलाएं तैनात हैं।

हादसे का खतरा, पर किसी का ध्यान नहीं

नगर के बाजार लाइन चौक रास्ते में 20 दिनों पहले नगर पंचायत छुईखदान द्वारा पेयजल पाइप लाइन वाल को सुधारने के लिए गड्डा खोदा गया था, परंतु इसके मरम्मत के लिए नगर पंचायत द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है। बाजार लाइन के व्यापारी इसकी शिकायत कई बार सीएमओ व कर्मचारियों से कर चुके है। इसके बाद भी कुछ नहीं हो रहा। मुख्य मार्ग पर गड्ढा होने से आवागमन में परेशानी हो रही है। यहां कभी बड़ा हादसा हो सकता है।

सफाई सही ढंग से नहीं हो पा रही है

अश्वनी शर्मा, सीएमओ छुईखदान ने बताया कि सफाई कर्मचारियों की कमी होने के कारण सफाई सही ढंग से नहीं हो पा रही है। इसके बाद भी सफाई पर गंभीरता से काम किया जा रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned