छत्तीसगढ़ में बर्फानी दादा के नाम से प्रसिद्ध संत लाल बिहारी दास का अहमदाबाद में निधन, पाताल भैरवी मंदिर की रखी थी नींव

. देश के प्रसिद्ध संत और अखिल भारतीय चतुर्: संप्रदाय के अध्यक्ष योगाधिराज ब्रम्हर्षि लाल बिहारी दास जी का बुधवार 23 दिसम्बर की रात गुजरात के अहमदाबाद में स्वर्गवास हो गया है।

By: Dakshi Sahu

Published: 24 Dec 2020, 12:32 PM IST

राजनांदगांव. देश के प्रसिद्ध संत और अखिल भारतीय चतुर्: संप्रदाय के अध्यक्ष योगाधिराज ब्रम्हर्षि लाल बिहारी दास जी का बुधवार 23 दिसम्बर की रात गुजरात के अहमदाबाद में स्वर्गवास हो गया है। वे अपने भक्तों के बीच बर्फानी दादा के नाम से जाने जाते थे। राजनांदगांव के पाताल भैरवी शक्तिपीठ के प्रमुख माने जाने वाले बर्फानी दादा के निधन की खबर देर रात यहां आने के बाद गुरु परिवार और भक्तों में शोक का माहौल है। निधन की खबर मिलने के बाद बर्फानी सेवाश्रम समिति के अध्यक्ष राजेश मारू सहित आश्रम के सदस्य मेहंदीपुर बालाजी के लिए रवाना हो गए हैं। संत समाज के निर्णय के अनुसार बर्फानी दादा का अंतिम संस्कार कल 25 दिसम्बर को दोपहर दो बजे राजस्थान के मेहंदीपुर बालाजी में किया जाएगा।

बर्फानी धाम में पुष्पांजलि की व्यवस्था
मां पाताल भैरवी मंदिर और बर्फानी सेवाश्रम समिति के सचिव गणेश प्रसाद शर्मा ने बताया कि बर्फानी धाम में जिस कक्ष में बर्फानी दादा बैठकर भक्तों से मुलाकात करते थे और आशीर्वाद देते थे उस कक्ष में स्थानीय भक्तों के लिए पुष्पांजलि की व्यवस्था की गई है। हर साल शरद पूर्णिमा के दिन औषधि युक्त खीर का वितरण यहां किया जाता है। उस प्रसाद को ग्रहण करने के लिए देश-विदेशों से लोग बर्फानी धाम आते हैं। संत के निधन से देश के कोने-कोने में रहने वाले उनके भक्तों के बीच शोक की लहर है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned