सरकारी शराब दुकानें बंद, नशेड़ी महुआ व छीन की ताड़ी निकालने हुए सक्रिय

माई की नगरी में अवैध शराब बिक्री जोरो पर

By: Nakul Sinha

Published: 18 Apr 2020, 03:36 PM IST

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. धर्मनगरी में लॉकडाउन के चलते जहां एक ओर केवल आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जा रही है। वहीं सरकार द्वारा शराब की दुकानें बंद किए जाने के बाद नगर में अवैध शराब की बिक्री भी जोरों पर है। कीमतें अधिक होने के कारण लोगों ने अब महुआ और छीन की ताड़ी बनाकर नशे के लिए अच्छा जुगाड़ कर लिया है क्योंकि अवैध शराब की बिक्री मनमाने रेट पर हो रही है। इसलिए नशे के आदि लोगों ने इसका जुगाड़ महुआ और ताड़ी के रूप में निकाला है। इन दिनों महुआ ग्रामीण क्षेत्रों में आसानी से उपलब्ध हो रहा है वहीं शहर से लगे जंगली इलाकों में छीन के पेड़ भी बहुतायत में हैं। नगर से लगे क्षेत्रों में भी छीन के वृक्षों की भरमार है। डोंगरगढ़ के पुलिस थाने से कुछ दूर पर ही छीन के झाड़ों में लटके हुए पीपे इसका जीता जागता सबूत है कि ताड़ी बनाई जा रही है।

मार्गो के किनारे लगे छीन के झाड़ों पर लटके है पीपे
शहर के व्यस्तम मार्गों के किनारे लगे छीन के झाड़ों पर पीपे लटके दिखाई दे रहे हैं, यह मार्ग पुलिस थाने से महज कुछ दूरी पर ही स्थित है। ऐसे में छीन के पेड़ पर लगे यह पीपे अपने आप में नशेडिय़ो के जुगाड़ की पूरी कहानी बयान कर रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में भी महुआ की शराब की बिक्री जमकर चल रही है और नशेड़ी लॉकडाउन का उल्लंघन कर ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर हाथ से बनी शराब से अपना काम चला रहे हैं। इस संबंध में स्थानीय पुलिस को भी इस आशय की जानकारी दी गई है किंतु पुलिस का मौन आश्चर्यजनक है।

Nakul Sinha Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned