अमृत मिशन योजना के तहत निर्मित नए 17 एमएलडी परिशोधन गृह के प्रगति के संबंध में ली जानकारी ...

महापौर द्वारा मोहारा फिल्टर प्लांट का निरीक्षण

By: Nitin Dongre

Published: 07 Jul 2020, 07:08 AM IST

राजनांदगांव. महापौर हेमा सुदेश देशमुख द्वारा आज मोहारा जल संयंत्रगृह का निरीक्षण कर नदी में बरसात का पानी आने के कारण एनीकट में पानी बढऩे की स्थिति एवं अमृत मिशन योजनांतर्गत निर्मित नए 17 एमएलडी परिशोधन गृह के प्रगति के संबंध में जानकारी ली। इस अवसर पर जल विभाग के प्रभारी सदस्य सतीश मसीह, खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग के प्रभारी सदस्य संतोष पिल्ले, स्वास्थ्य विभाग के प्रभारी सदस्य गणेश पवार उपस्थित थे।

मोहारा जल संयंत्र गृह में निर्मित 17 एमएलडी परिशोधन गृह के निरीक्षण के दौरान महापौर ने परिशोधन के कार्य के संबंध में एवं नवागांव में निर्मित पानी टंकी के चल रहे टेस्टिंग के संबध में जानकारी ली। जल विभाग के प्रभारी अधिकारी अतुल चोपड़ा ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में शहर में कोरोना वायरस संक्रमण में वृद्धि होने के कारण बाहर से श्रमिकों का आना बंद है, जिसके कारण कार्य में विलंब हो रहा है। साथ ही अमृत मिशन के एक्सपर्ट अधिकारी जो महाराष्ट्र के पुना बाम्बे आदि शहरों से आते है, वे भी नहीं आ पा रहे है, जिससे कार्य में गति नहीं आ पा रही है। अब चूकि आना जाना प्रारंभ हो रहा है तो कार्य में तेजी लाई जाएगी।

टैंकर सप्लाई से मुक्ति मिलेगी

महापौर देशमुख ने कहा कि नए फिल्टर प्लांट से टेस्टिंग के लिये नवागांव पानी टंकी भरने का कार्य किया जा रहा है। टंकी से नवागांव में पानी भी सप्लाई की जा रही है, उक्त पानी को पीने योग्य है या नहीं इसकी जॉच की जाये ताकि नवागांव वासियों को शुद्ध पेयजल मिल सके। उन्होने कहा कि उक्त क्षेत्र में टंकी से पानी सप्लाई होने से लगभग 50 प्रतिशत टैंकर सप्लाई से मुक्ति मिलेगी। मुख्यमंत्री माननीय भूपेश बघेल जी की भी टैंकर मुक्त शहर की मंशा है। अमृत मिशन के अंतर्गत सभी टंकी प्रारंभ हो जाने से हमारा शहर भी टैंकर मुक्त हो जाएगा।

जलस्तर बढऩे से पानी गंदा हो जाता है

उन्होंने कहा कि बरसात के दिनों मेें नदी का जल स्तर बढऩे से पानी गंदा हो जाता है। जिसे ध्यान में रखते हुये फिटकरी एवं क्लोरिन की मात्रा बढ़ाई जाए, जिससे नागरिकों को शुद्ध पेयजल मिल सके। निरीक्षण की कड़ी में महापौर द्वार नवागांव एवं दीनदयाल कालोनी का भी निरीक्षण कर कालोनी वासियों से उनकी समस्याओं के संबंध में चर्चा की एवं समस्या का निराकरण करने का आश्वासन दिया गया। इस अवसर पर तकनीकि अधिकारी उपस्थित थे।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned