खूंटापारा के लोगों ने किया नगर पालिका का घेराव, कार्रवाई की मांग

गाय के खटाल से बीमारी की आशंका, अनुविभागीय अधिकारी को भी दिया ज्ञापन

By: Nakul Sinha

Published: 24 Jul 2018, 11:12 AM IST

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. स्थानीय वार्ड नंबर एक में बस्ती के बीच पशुपालन का कार्य से फैल रही गंदगी से हैजा मलेरिया पीलिया जैसी बीमारी के प्रकोप की आशंका बन गई है। वार्ड के राधेश्याम सोनी नंदकुमार सोनी मनीषा बेगम, मुकेश, मुनीमदास, जीतू, शाहीन बाई, बिशाहीन बाई, चेतराम सोनकर, शेख अब्दुल, संगीता साहू, बल्लू भाई, केसरबाई, फूलों बाई, रामचंद्र देशमुख सहित अन्य वार्ड वासियों ने अनुविभागीय अधिकारी को सौंपा।

गंदगी से बीमारी का खतरा बढ़ा
ज्ञापन में बताया कि वार्ड के निवासी भागवत यादव द्वारा भरी बस्ती में पशुपालन का कार्य किया जा रहा है। पशुओं से निकलने वाला मल मूत्र भी मोहल्ले में ही रखा जाता है जिससे आने जाने का रास्ता बंद हो गया है। गंदगी की वजह से मच्छर कीड़े उत्पन्न हो रहे हैं। आसपास के कुएं, नलकूप में भी इस गंदगी का रिसाव शुरु हो चुका है जिससे पानी गंदा हो गया है और मलेरिया, हैजा, पीलिया जैसी बीमारी के प्रकोप की आशंका है। वार्डवासियों ने बताया कि भागवत यादव ने नजूल भूमि सहित आने जाने के रास्ते को घेर डेरी बनाई है।

त्वरित कार्रवाई करने की मांग
शासन प्रशासन के लोग भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। मोहल्लेवासियों को हो रही परेशानी से आए दिन झगड़े की स्थिति बनती है। अप्रिय घटना को टालने के लिए वार्ड वार्ड के नागरिकों ने नगरपालिका अधिकारी व अनुविभागीय अधिकारी सहित पुलिस प्रशासन को भी इस आशय का आवेदन सौंपकर तत्काल कार्रवाई की मांग की है अन्यथा आंदोलन की चेतावनी दी है। गाय के खटाल से बीमारी की आशंका, अनुविभागीय अधिकारी को भी दिया ज्ञापन, खूंटापारा के लोगों ने किया नगर पालिका का घेराव, कार्रवाई की मांग की है वार्डवासियों ने बताया कि भागवत यादव ने नजूल भूमि सहित आने जाने के रास्ते को घेर डेरी बनाई है। मोहल्लेवासियों को हो रही परेशानी से आए दिन झगड़े की स्थिति बनती है।

Nakul Sinha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned