भाषा जीवन के हर क्षेत्र में परिलक्षित होता है

भाषा जीवन के हर क्षेत्र में परिलक्षित होता है

Nakul Sinha | Publish: Aug, 12 2018 11:53:30 AM (IST) Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

अंग्रेजी भाषा पर राष्ट्रीय सेमीनार संपन्न, नगर के हरीश हुए सम्मानित

राजनांदगांव / डोंगरगांव. अंग्रेजी भाषा पर राष्ट्रीय सेमीनार 5 अगस्त को अंबागढ़ चौकी मेें हेल्प टाई इंग्लिश लैंग्वेज टीचर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया एवं अं.चौकी महाविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान में इंग्लिश लैंग्वेज टीचिंग इन रूरल एरिया विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय सेमीनार का आयोजन हुआ। सेमीनार में देश के 170 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। जिसमें विभिन्न विद्यालय, महाविद्यालय व विश्वविद्यालयों के शिक्षाविदों ने अंग्रेजी भाषा के अध्ययन पर अपना विचार प्रस्तुत करते हुए विषय परेशानियों के कारण एवं निदान पर विस्तृत चर्चा की।

विभिन्न महाविद्यालयों के शिक्षाविद् हुए शामिल
इस अवसर पर मुख्य अतिथि केआर मंडावी प्राचार्य, विशिष्ट अतिथि प्रो.बीके पटेल, प्रो.शैलेश मिश्रा एवं डॉ.नितेश मिश्रा उपस्थित रहे। समापन समारोह के मुख्य अतिथि डॉ.आईडी तिवारी संगीत विवि खैरागढ़ ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षक अपने लगन एवं सतत प्रयास से सफलता के नए-नए आयाम गढ़ रहे हैं। समापन सत्र में प्रो.बीआर कुर्रे, आरके कंवर, जेआर परतेती, हीरा लाल शेंडे, पुष्पा सिन्हा ने शिक्षको संबोधित किया।

प्रस्तुत किए गए शोध पत्र
सेमीनार में बेहतर शोध पत्रों की प्रस्तुति के लिए सुरेश गुप्ता, रामप्रसाद कुजूर, संजय मानिकपुरी, सईद कुरैशी, हरीश द्विवेदी को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर हेमराज सहारे, मुकेश शुक्ला, धर्म सिन्हा, नेहरू वर्मा, अविनाश सिंह, मधुलिका देवांगन, भारतीय उइके, बसंत यादव को सम्मानित किया गया। सेमीनार में देश के 170 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। जिसमें विभिन्न विद्यालय, महाविद्यालय व विश्वविद्यालयों के शिक्षाविदों ने अंग्रेजी भाषा के अध्ययन पर अपना विचार प्रस्तुत करते हुए विषय परेशानियों के कारण एवं निदान पर विस्तृत चर्चा की।

शिक्षाविदों ने शोधपत्र के माध्यम से विचार रखे
सेमीनार में विभिन्न राज्यों से आये शिक्षाविदों ने अपने शोधपत्र के माध्यम से विचार प्रस्तुत की।डॉक्टर मधु कामरा रायपुर, डॉक्टर सिला विजय भिलाई, डॉक्टर अनीता शंकर राजनांदगांव, संजय मानिकपुरी नागपुर, डॉक्टर चंद्रशेखर शर्मा, विधायक सुरेश गुप्ता सूरजपुर, हरीश द्विवेदी डोंगरगांव, मोहम्मद सईद कुरैशी मोहला, युगल किशोर तिवारी राजनांदगांव ने अपने शोधपत्र का अध्यापन किया।

Ad Block is Banned