तालाब किनारे पेड़ पर चढ़कर बैठा था खूंखार तेंदुआ, देखते ही ग्रामीणों के फूल गए पांव, फिर...

सघन वन से लगे साल्हेवारा क्षेत्र में बाघ के बाद तेंदुआ दिखने से हड़कंप मच गया। वयस्क तेंदुआ को पेड़ पर चढ़ा देख ग्रामीणों की पांव फूल गए।

By: Dakshi Sahu

Published: 27 Jul 2020, 06:45 PM IST

राजनांदगांव/साल्हेवारा. सघन वन से लगे साल्हेवारा क्षेत्र में बाघ के बाद तेंदुआ दिखने से हड़कंप मच गया। वयस्क तेंदुआ को पेड़ पर चढ़ा देख ग्रामीणों की पांव फूल गए। रविवार दोपहर से ग्राम रामपुर के पेड़ एक तेंदुआ जंगल से भटक कर गांव में आ पहुंचा। गांव के तालाब किनारे आकर वह पेड़ में चढ़ गया। सूचना के बाद से वन अमले को गांव में तैनात किया गया। लेकिन तेंदुआ अंधेरा होने तक पेड़ में ही चढा़ था। जब रात दस बजे के करीब तेंदुआ पेड़ से उतरकर जंगल में गया तब जाकर ग्रामीणों ने राहत की सांस ली।

साल्हेवारा से मिली जानकारी के अनुसार तालाब में नहाने पहुंचे ग्रामीणों ने अचानक तेंदुआ को पेड़ के पत्तों की ओट में छिपे देखा तो वे दहशत में आ गए और वन विभाग को सूचना दी। ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। इसके बाद से लगातार मौके पर निगरानी की गई। खैरागढ़ वन मंडल के एसडीओ एचएन ठाकुर ने बताया गया कि ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग और पुलिस की रेस्क्यू टीम साल्हेवारा क्षेत्र के ग्राम रामपुर पहुंची थी। तेंदुआ को सुरक्षित पकडऩे पिंजरा भी लगाया गया था।

खैरागढ़ डीएफओ रामअवतार दुबे ने पत्रिका को बताया कि सघन वन क्षेत्र होने के चलते तेंदुआ भटककर गांव में आ गया है। देर रात तेंदुआ खुद ही उतरकर जंगल में चला जाए। हालांकि वन अमले ने पिंजरे की व्यवस्था कर रखी थी। तेंदुआ के जाने के बाद भी रात भर टीम निगरानी करती रही। वहीं गांव में भी लोगों को अलर्ट कर दिया गया था।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned