लोकसभा चुनाव, साहब पहले विधानसभा चुनाव ड्यूटी का भुगतान तो करा दीजिए, प्रशिक्षण में दिखी अधिकारी, कर्मचारियों की पीड़ा

लोकसभा चुनाव, साहब पहले विधानसभा चुनाव ड्यूटी का भुगतान तो करा दीजिए, प्रशिक्षण में दिखी अधिकारी, कर्मचारियों की पीड़ा

Dakshi Sahu | Publish: Mar, 17 2019 12:19:09 PM (IST) Rajnandgaon, Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

विधानसभा के दौरान ड्यूटी करने वाले करीब 200 कर्मचारियों को मानदेय का भुगतान अब तक नहीं हो पाया है।

राजनांदगांव. लोकसभा चुनाव की तैयारी चल रही है। प्रशासन क्रमबद्ध तरीके से कार्यों को संपादित कर रहा है। चुनाव के लिए शिक्षक व अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी भी लगाई जा चुकी है, उन्हें प्रशिक्षण दिया जा रहा है, लेकिन विधानसभा के दौरान ड्यूटी करने वाले करीब 200 कर्मचारियों को मानदेय का भुगतान अब तक नहीं हो पाया है।

अधिग्रहित वाहनों, टेंट (लाइट, माइक, समियाना) और विडियोग्राफी का भुगतान भी नहीं किया गया है। यह राशि करीब तीन करोड़ रुपए से अधिक है। हालांकि प्रशासन का कहना है कि ड्यूटी लगाने वाले कर्मचारियों से फार्म भरवाया जाता है, उसमें उन्होंने बैंक अकाउंट गलत दिया था। इस वजह से यह दिक्कत आई है। वाहन, टेंट व विडियोग्राफी का भुगतान आयोग से होना है।

चुनाव दल में पीठासीन अधिकारी के अलावा अधिकारी क्रमांक १, २ व ३ होते हैं। इसके अलावा माइक्रो आब्जर्वर और सेक्टर प्रभारी होता है। पीठासीन को १२०० रुपए मानदेय दिया जाता है। अधिकारी क्रमांक १, २ व ३ को 9 सौ रुपए दिया जाता है। वहीं माइक्रो आब्जर्वर को भी 12 सौ और सेक्टर प्रभारियों को 1600 रुपए मानदेय दिया जाता है। मिली जानकारी अनुसार जिन अधिकारी-कर्मचारियों का ग्रामीण बैंक व स्टेट बैंक में एकाउंट है, उनका ही मानदेय रूका हुआ है। बाकी बैंक के खाता धारकों को भुगतान किया जा चुका है।

राज्य स्तर पर टेंडर
ज्ञात हो कि टेंट व विडियो ग्राफी के लिए पहले जिले स्तर पर टेंडर किया जाता था, अब आयोग द्वारा इसका टेंडर राज्य स्तर से किया जाता है। ऐसे में इसका भुगतान आयोग द्वारा ही किया जाना है। मिली जानकारी अनुसार जल्द ही इनकी भी राशि जारी कर दी जाएगी। इसके बाद लोकसभा चुनाव के लिए भी इनकी जरूरत पड़ेगी। अपर कलेक्टर व निर्वाचन अधिकारी ओंकार यदु ने बताया कि अधिकारी-कर्मचारियों ने अपने बैंक अकाउंट की जानकारी गलत दी है। इस वजह से राशि जारी होने के बाद भी उनके अकाउंट में रुपए नहीं पहुंचे। वाहन, टेंट व विडियो ग्राफी का भुगतान आयोग से किया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned