बड़ी मशक्कत के बाद निकाला गया कुएं में दबे महेश की बॉडी को

3 अप्रैल को घटी थी कुएं की सफाई के दौरान घटना

By: Nakul Sinha

Published: 05 May 2020, 12:05 PM IST

राजनांदगांव / गंडई पंडरिया. गंडई के समीप के गांव बिरखा मे कुएं को सफाई करने उतरे महेश मरकाम मलबे में दब गया था। उनके और तीन साथी चंद्रेश, नेताम, महेंद्र नेताम व पप्पू मेरावी बाल बाल बच गए। 3 अप्रैल को लगभग 1 बजे के आसपास गांव के ही सरकारी कुआं को साफ करने के लिए चारों व्यक्ति उतरे थे। लेकिन अचानक एक-एक कर कुएं से मलबा गिरना चालू हो गया फिर आननफानन में तीन व्यक्ति जैसे तैसे रस्सी के सहारे उपर आ गए। हालांकि तीनों को भी चोटे आई है लेकिन महेश मरकाम तत्काल मलबे के अंदर दब गया। जिसकी सूचना ग्रामीणों ने तुरंत पुलिस को दी। खबर मिलते ही गंडई थाने के पुलिस अपनी टीम के साथ पहुंचे और रेस्क्यू चालू किया। रात्रि 8 बजे तक रेस्क्यू किया गया लेकिन रात होने के कारण बचाव कार्य को वहीं विराम दे दिया गया। 4 मई सोमवार को सुबह फिर से बड़ी गाड़ी बुलाकर मलबे को निकालना चालू किया तब कहीं जाकर महेश मरकाम की बाडी को क्षत-विक्षत अवस्था में निकाला गया। इस मिशन को अंजाम देने में पुलिस प्रशासन, राजस्व विभाग व गांव वालों की अहम भूमिका रही।

24 घंटे से भी ज्यादा लगा रेस्क्यू का काम
ज्ञात हो कि 3 मई को लगभग 1 बजे के आसपास चार लोग सार्वजनिक कुएं की सफाई करने के लिए उतरे थे। जहां घटना घटा वहां पर कुछ लोग और भी उपस्थित थे। लेकिन मलबे अचानक गिरना चालू हो गया। उपस्थित लोगों ने चाह कर भी कुछ नहीं कर पाया। पुलिस प्रशासन के द्वारा खबर मिलते ही रेस्कयू करना चालू किया। लेकिन रात 9 बजे तक महेश को निकाला नहीं जा सका। सुबह 4 मई को फिर से बचाव कार्य को चालू किया गया। जहां लगभग शाम 5.30 बज गया। तब कहीं जाकर महेश मरकाम की बॉडी को क्षतविक्षत अवस्था में निकाला गया। इस घटना से बिरखा सहित पूरे गंडई क्षेत्र में दहशत का माहौल बना हुआ है।

पीडि़त के परिवार को मुआवजा का प्रावधान
नायब तहसीलदार, प्रफुल्ल कुमार ने कहा कि बिरखा के कुंए में दबे महेश की बाडी निकालने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। राजस्व पुस्तक परिपत्र के अनुसार पीडि़त परिवार को मुआवजा देने का प्रावधान है। उचित जांच कर मुआवजा दिया जाएगा।

Nakul Sinha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned