गश खाकर गिरा मनरेगा मजदूर, कार्य स्थल पर ही मौत, बेटियों ने किया अंतिम संस्कार ...

चिचोला पुलिस चौकी क्षेत्र का मामला, मृतक को नहीं है कोई बेटा

By: Nitin Dongre

Published: 28 May 2020, 06:21 AM IST

सड़क चिरचारी. सड़क बंजारी में मनरेगा का कार्य करने गए 42 वर्षीय ग्रामीण की बुधवार से सुबह कार्य स्थल पर ही अचानक मौत हो गई। छुरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पीएम के बाद शव पजिरनों को सौंपा गया। दो साल पहले ही मृतक के एकलौते पुत्र का भी इसी तरह अचानक मृत्यु हो गई थी। इसलिए बेटियों ने ही पिता को मुखाग्नि दी। इस घटना के बाद गांव में मातम का माहौल है। बच्चियों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है।

मिली जानकारी अनुसार चिचोला चौकी क्षेत्र के ग्राम पंचायत रानीतलाब के आश्रित ग्राम सड़क बंजारी में नया तालाब गहरी करण का कार्य तीन सप्ताह से जारी है, जहां पर सड़क बंजारी और रानीतलाब के ग्रामीण कार्यरत हैं। रोजाना की तरह बुधवार को भी सुबह ग्रामीण कार्य स्थल पहुंचे, जहां रानीतालब निवासी 42 वर्षीय कमल दास पिता सुखदास सारले को चक्कर आया। वह रूका और पानी पी रहा था कि अचानक गश खाकर जमीन पर गिर पड़ा। उसे छुरिया सामुदायिक अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पिता पहले ही अस्पताल में भर्ती

बीती रात को ही तकरीबन 3 बजे मृतक के पिता सुखदास सारले की तबियत बिगडऩे पर उसे छुरिया के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था।

बेटियों ने दी मुखाग्नि

मृतक के परिवार में दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। दो साल पहले मृतक कमल दास के एकलौते पुत्र उत्तम प्रकाश की भी अचानक मृत्यु हुई थी। मृतक की तीन बेटियों है, जिसमें एक बालिग हो चुकी है। पुत्र नहीं होने के कारण बेटियों ने ही पिता को मुखाग्नि दी। कोरोना वायरस के चलते घर-परिवार के लोग ही अंतिम संस्कार में पहुंचे थे।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned