घटिया निर्माण को देखने वाला कोई नहीं, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग कुंभकर्णी नींद में

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का बुरा हाल

By: Nakul Sinha

Published: 03 Dec 2019, 11:32 AM IST

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. विकासखंड में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का बुरा हाल है जो सड़के बन चुकी हैं। वह बदहाली की कगार में है और जो बन रही हैं उनकी स्थिति भी खासी खराब है। घटिया निर्माण को देखने वाला कोई नहीं है शासन का पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग नींद में हैं। आदिवासी अंचल के ग्राम पंचायत बागरेकसा व बुढानछापर के समीप ग्राम भालूकोना को जोडऩे वाली 3.90 किलोमीटर लंबी सड़क जिसकी लागत एक करोड़ 93 लाख बाईस हजार रुपए है, इस मार्ग का निर्माण अभी तक अधूरा पड़ा है। इस मार्ग का शुभारंभ 17 सितंबर 2018 को पूर्व शासनकाल में हुआ था तथा 2 अगस्त 2019 तक कार्य पूर्ण होने की तिथि के बाद भी सड़क का निर्माण अधूरा पड़ा है। ग्रामवासियों ने बताया कि मार्ग में अनियमितता की शिकायत बार-बार विभाग के अधिकारियों को की जाती रही किंतु ठेकेदार को मनमानी करने से रोकने वाला कोई नहीं है जिसके चलते ग्रामीणों ने आवाज उठाना बंद कर दिया।

6 माह पूर्व बनी सड़कें उखडऩे लगी
ग्रामवासियों के अनुसार इस सड़क का डब्ल्यूबीएम कार्य किया गया है 6 माह पूर्व संपन्न इस कार्य की गुणवत्ता इतनी खराब है की सड़क अभी से उखडऩा प्रारंभ हो गई है। अब आनन-फानन इस मार्ग में डामरीकरण की तैयारी की जा रही है। डामरीकरण के बाद ठेकेदार अपनी राशि निकालकर उडऩ छू हो जाएगा और ग्रामवासियों को उसी खराब मार्ग में आवागमन करना पड़ेगा। ग्रामीणों ने बताया कि मार्ग निर्माण में प्रयुक्त सामग्री भी चोरी छुपे जंगल से ही लाई गई है जिसकी ना तो रायल्टी का ठिकाना है और ना ही गुणवत्ता का।

ग्रामीण करेंगे मुख्यमंत्री से शिकायत
विभाग के अधिकारी आंख बंद करके बैठे हैं जिसके चलते ग्रामीणों ने अब प्रदेश के मुख्यमंत्री से इसकी शिकायत करने का मन बना लिया है। जल्द ही बड़ी संख्या में ग्रामीण घटिया मार्ग निर्माण की शिकायत लेकर मुख्यमंत्री के समक्ष प्रदर्शन करेंगे। ग्रामीणों ने बताया कि मार्ग निर्माण में घटिया सामग्री की शिकायत क्षेत्र के विधायक दलेश्वर साहू से भी की जा चुकी है किंतु इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई जिससे ग्रामीण मुख्यमंत्री से मिलने का मन बना चुके हैं।

Nakul Sinha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned