निर्माण हुए एक माह भी बीता नहीं कि उखडऩे लगी बागतराई-गातापार से सुकुलदैहान तक बनी सड़क ...

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 6 किमी तक बनी है रोड

By: Nitin Dongre

Published: 07 Jul 2020, 07:29 AM IST

ठेलकाडीह. जंहा केंद्र से लेकर प्रदेश सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेंत्रों को विकास करने की सोच रखते हुए गांव-गांव पक्की सड़कों का निर्माण कराने के लिए प्रधानमंत्री सड़क से लेकर मुख्यमंत्री सड़क योजना चलाते हुए करोड़ो रूपए खर्च किए जा रहे है। लेकिन इस योजना की आड़ में उनके ही नुमाइंदे पलीता लगा रहे है। रानांदगांव ब्लॅाक के ग्राम बागतराई-गातापार से सुकुलदैहान तक प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत हाल ही में रोड का निर्माण किया गया है, लेकिन इस निर्माण में अधिकारियों और ठेकेदार ने किस तरह निर्माण को अंजाम दिया है।

वह माहभर में ही पोल खुल गई। खास बात यह है कि इस पूरे निर्माण कार्यो में अधिकारियों से लेकर नेताओं की कमीषनखोरी का शिकार यह मार्ग हो गया। जिसके कारण अभी से ही जगह दरारें व कई जगह धंस चुकी है। जिसकी मरम्मत भी किया जा रहा है। सवाल यह है कि आखिर इतनी गुणवत्ताहीन सड़क का निर्माण होने तक विभाग के जिम्मेदारी अधिकारी कहा छुपे रहते है। या यू कहे कि निर्माण के दौरान केवल अधिकारी मॉनिटरींग के नाम पर खानापूर्ति करते है। इसका बड़ा उदाहरण इस मार्ग है जो हाल ही में बने है।

सड़क निर्माण गुणवत्ता की जांच हो

जनपद सदस्य टोमिन जनक लाउत्र व ग्रामीणों का कहना है कि रोड निर्माण में बरती गई लापरवाही अभी से उजागर हो रही है। और ठेकेदार उखड़े हुए जगहों पर मरम्मत के नाम पर खानापूर्ति कर है। ऐसे में पूरी सड़क निर्माण की गुणवत्ता की जॉच होनी चाहिए। ताकि लापरवाही करने वाले अधिकारी और मनमानी करने वाले ठेकेदार पर कार्रवाई हो।

घटिया निर्माण के आगे प्रषासन बेबस

बागतराई-सुकुलदैहान तक बनी करीब 6 किमी की सड़क निर्माण में 237.73 लाख की लागत से निर्माण कार्य किया जा रहा है। विभाग द्वारा लगाये गए सूचना बोर्ड में ठेकेदार का नाम मे. महावीर कंट्रक्षंन कंपनी राजनांदगांव के द्वारा निर्माण कार्य को अंजाम दिया जा रहा है। फिलहाल सड़क किनारे फींलिग का कार्य किया जा रहा है। और जो रोड का निर्माण हुआ है उसमें अब खामिंया दिखने लग रही है। जबकि इस तरह निर्माण को लेकर प्रषासन भी खामोष नजर आ रहे है। अब देखने वाली बात यह है कि प्रषासन इस ओर ध्यान देते है या फिर ग्रामीणो को सामने आना पड़ेगा।

सड़क में दरारें और कई जगह धंसने लगी है

जनपद सदस्य टोमिन जनक लाउत्रे ने कहा कि सड़क निर्माण के दौरान ही निर्माण की गुणवक्ता को लेकर ग्राणीणों द्वारा मुझे जानकारी दी गई थी। मौके पर आने के बाद मैंने कई बार अधिकारी को फोन कर निर्माण को लेकर अवगत कराया था, लेकिन किसी ने गंभीरता से ध्यान नहीं दिया और अब सड़क निर्माण के बाद सड़क में दरारें व कई जगह धंसनेे लगी है।

ठीक करा रहे हैं

कार्यपालन अभियंता जेके कश्यप ने कहा कि दरारे नहीं आई है, उसमें नया बीटी हुआ था तो गाड़ी चल गई। इसलिए एक जगह हुआ है। उसे ठीक करा रहे हैं।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned