सीधे आवेदन लेने से बच रहे अधिकारी-कर्मचारी, कार्यालयों में लगा रहे पेटी

कार्यालयों में लगी पेटियां किंतु आवेदन एक भी नहंीं

By: Nakul Sinha

Updated: 24 May 2020, 05:48 AM IST

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. लॉकडाउन तथा कोरोना महामारी से बचने के लिए अब कार्यालयों में अधिकारी-कर्मचारी सीधे आवेदन लेने से बच रहे है तथा कार्यालयों में पेटियां लगाकर आवेदन उसमें डालने की अपील की गई है। यह पेटी जनपद कार्यालय में देखी गई जहां हमारे प्रतिनिधि ने उसे खोलकर देखा तो उसमें एक भी आवेदन नहीं पाया गया। विभाग के सीओ से जानकारी चाहने पर वे डयुटी में उपलब्ध नहीं थे तथा उन्होंने मोबाईल भी रिसीव नहीं किया। बताया जाता है सौ पंचायतों वाले इस ब्लाक के पंचायतों में मनरेगा के कार्य चल रहे है तथा इनके कार्यो में मजदूरों के साथ ही चुने हुए जनप्रतिनिधि भी इन कार्यो में लगे है तथा समय समय पर इनकी शिकायतें भी जनपद तक आती है किंतु रिसीव पावती नहीं देने तथा इन पर कुछ कार्रवाई नहीं होने के चलते शिकायतकर्ता मायूस हो रहे है।

शासकीय राशि का बंदरबाट करने में सरपंच-सचिव
वहीं पंचायतो में दिए गए फंड के भी क्षेत्र में नए सरपंचों द्वारा सेनीटायजर खरीदी व छिड़काव के नाम पर शासकीय राशि के बंदरबाट में लगे है। बताया जाता है कि नये सरपंचों को सबंधित पंचायतो के सचिव ही बोकस बिल बनाने का गाइडलाईन देकर शासकीय राशि का बंदरबांट करने में लगे है। जहां इनकी शिकायतें भी जनपद में आ रही है ंिकतु अधिकारी कोरोना महामारी की आड में आवेदन लेने से कतरा रहे है जिसका फायदा उठाते हुए सरपंच ,सचिव पंचायतो में बैठे बैठे बोकस बिल के सहारे शासकीय निकालने में लगे हुए है।

Nakul Sinha Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned