एक घंटे तक सड़क पर सोकर एनएसयूआई ने किया प्रदर्शन

एक घंटे तक सड़क पर सोकर एनएसयूआई ने किया प्रदर्शन

Nitin Dongre | Publish: Aug, 12 2018 04:41:19 PM (IST) Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

एसडीएम के आश्वासन के बाद सड़क से हटे छात्र

राजनांदगांव. कॉलेज के विद्यार्थियों को बस किराया में छूट व दिग्विजय कॉलेज के सामने सड़क की मरम्मत कराने की मांग को लेकर शुक्रवार को एनएसयूआई ने विरोध प्रदर्शन किया। दिग्विजय कॉलेज के सामने सड़क पर सोकर कार्यकर्ताओं ने करीब एक घंटे तक नारेबाजी किया। मौके पर पहुंचे नायब तहसीलदार की समझाइश पर बाद भी वे नहीं माने। इसके बाद तहसीलदार ने एसडीएम से एनएसयूआई के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव निखिल द्विवेदी की फोन पर बात करवाई। एसडीएम के आश्वासन पर कायकर्ता व छात्र शांत हुए।

प्रदर्शन एनएसयूआई के छात्र नेता राजा यादव एवं अमर झा के नेतृत्व में हुआ। आंदोलन में एनएसयूआई के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव निखिल द्विवेदी व जिला अध्यक्ष विप्लव शर्मा भी शामिल हुए थे। छात्रों की मांग पूरी नहीं होने पर सात दिनों के बाद प्रशासन को चुड़ी पहनाकर विरोध प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

शासन-प्रशासन की ओर से कोई पहल नहीं

जिला अध्यक्ष शर्मा ने बताया कि इसके पूर्व भी निगम आयुक्त को ज्ञापन देकर छात्रों की समस्याओं से अवगत कराया जा चुका है, लेकिन शासन-प्रशासन की ओर से कोई पहल नहीं हुई। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव द्विवेदी ने कहा कि जिला चिकित्सालय जाने वाली सड़क जो की महाविद्यालय के सामने से होकर गुजरती है। इस सड़क पर इतने गढ्ढे है कि हर रोज 4 से 5 वाहन चालक गिर जाते हैं। उपरोक्त कार्यक्रम में प्रदेश संयोजक शुभम शुक्ला, दिग्विजय कॉलेज अध्यक्ष राजा यादव, सांईस कॉलेज एनएसयूआई अध्यक्ष अमर झा, हंसराज मेश्राम, रितिक रामटेके, जीतू रामटेके, उमेश साहू सहित अन्य उपस्थित थे।

मॉडल कॉलेज के छात्रों ने किया प्रदर्शन

इधर मॉडल कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने खुद को बेसहारा व पराश्रित घोषित करते हुए परेशानियों का उल्लेख करते हुए ज्ञापन को सूचना पटल में चस्पा कर दिया। छात्र नेता ऋषि शास्त्री ने बताया कि मॉडल कॉलेज की योजना छात्र-छात्राओं के बेहतर गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा व्यवस्था के अनुरूप प्रारंभ की गई थी, परन्तु ४ साल बीत जाने के बात भी छात्र-छात्राओं को खुद का अलग भवन तक नहीं मिल पाया है। विद्यार्थियों को मॉडल कॉलेज की डिग्री तो दी जा रही है, परन्तु अब भी विद्यार्थी मॉडल पढ़ाई से वंचित हैं। विद्यार्थी प्राध्यापक, पुस्तकालय, प्रायोगिक कक्ष से लेकर अन्य सुविधाओं से वंचित हंै। छात्र-छात्राओं को मॉडल कॉलेज के नाम पर धोखा दिया गया है। मौके पर मॉडल कॉलेज के छात्र मौजूद रहे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned