राहत कैंप जाकर सोशल डिस्टेंसिंग भूले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मरकाम, नियमों की धज्जियां उड़ाकर भीड़ में घुसे विधायक और नेता

कांग्रेसी नेताओं ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के मुख्य उपचार सोशल डिस्टेंस को भूलकर अच्छी खासी भीड़ जमा की। (Coronavirus in Chhattisgarh)

 

By: Dakshi Sahu

Updated: 06 Apr 2020, 04:43 PM IST

राजनांदगांव. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम (Chhattisgarh Pradesh Congress Committee president Mohan Markam) ने राजनांदगांव जिले के विधायकों और कांग्रेस नेताओं के साथ महाराष्ट्र सीमा के पास स्थित सड़क चिरचारी के समीप वन विभाग के डिपो का दौरा कर विभिन्न प्रदेशों से आए मजदूरों को मुहैया कराई जा रही व्यवस्था का रविवार को निरीक्षण किया। उन्होंने मजदूरों से बात कर उनकी पीड़ा सुनी लेकिन इस दौरान सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ती रही। कांग्रेसी नेताओं ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के मुख्य उपचार सोशल डिस्टेंस को भूलकर अच्छी खासी भीड़ जमा की।

पीसीसी चीफ ने किया निरीक्षण
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मरकाम ने कैंप के निरीक्षण के दौरान पाया कि लोगों को प्रतिदिन दैनिक उपयोग की वस्तुओं के साथ नाश्ता भोजन आदि उपलब्ध कराई जा रही है। इस कैंप में जिला प्रशासन के अधिकारी व कर्मचारी विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से 24 घंटे अपनी सेवाएं दे रहे हैं। राज्य शासन के मुखिया भूपेश बघेल के निर्देश पर संगठन के वरिष्ठ नेता समय-समय पर कैंप का अवलोकन कर जरूरतमंदों को आवश्यक सेवा देने में सहायता प्रदान कर रहे हैं।

रविवार की सुबह प्रदेश कांग्रेस संगठन के मुखिया मोहन मरकाम चिरचारी स्थित राहत कैंप पहुंचे। राहत कैंप में विभिन्न प्रदेशों के दिहाड़ी मजदूरों से चर्चा करते हुए वहां उपलब्ध सुविधाओं के विषय में जानकारी ली और प्रदेश सरकार द्वारा करोना लॉकडाऊन के दौरान की गई व्यवस्था पर उनसे चर्चा की। इस दौरान मरकाम ने कैम्प में रह रहे लोगों से कहा कि पहुना के आवभगत करना छत्तीसगढ़ की परम्परा है। आप लोगों का पूरा ध्यान रखा जाएगा। राहत कैंप में सुविधाओं का लाभ ले रहे लोगों ने जानकारी दी कि कैंप में सारी सुविधाएं मिल रही है, इसके लिए छत्तीसगढ़ सरकार को धन्यवाद करते हैं। अब यही मंशा है कि हमें अपने घर तक जाने की सुविधा प्रदान की जाए।

14 तक रूकना होगा
इस पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मरकाम ने उन्हें समझाते हुए कहा कि कोरोना लॉकडाउन की वजह से राज्य शासन के नियम के अधीन है और इस पर 14 तारीख के बाद ही विचार किया जा सकता है। अपने कैंप अवलोकन के दौरान मरकाम ने वहां पर अपनी सेवाएं दे रहे लोगों से चर्चा की विशेषकर भोजन बनाने की व्यवस्था में लगे सेवकों की प्रशंसा की।

इस दौरान ये रहे मौजूद
राहत कैम्प के अवलोकन के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रदेश विधायक छन्नी साहू, इंद्रशाह मंडावी, भुनेश्वर बघेल, पूर्व विधायक भोलाराम साहू, प्रकाश यादव, थानेश्वर पटिला, प्रदेश महामंत्री शाहिद भाई, जिला ग्रामीण अध्यक्ष पदम कोठारी, शहर कांग्रेस महामंत्री प्रवीण मेश्राम की उपस्थिति में बैठक कर अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए।

coronavirus
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned