लॉकडाउन पर खुद की दुकान बंद पर लोगों के लिए बना रहे हैं भोजन

सेवा की मिसाल पेश कर रहे यादव दम्पत्ति

By: Nakul Sinha

Published: 05 May 2020, 12:57 PM IST

राजनांदगांव / खैरागढ़. लॉकडाउन के दौरान शहर के जरूरतमंद गरीब और निर्धन लोगों के भोजन की व्यवस्था बनाने में जुटे संस्थानों के लिए होटल चलाकर अपना जीवन यापन करने वाले दंपत्ति मिसाल पेश कर रहे हैं। दाउचौरा मार्ग पर पुल के पास छोटे से भोजनालय का संचालन करने वाले लोकनाथ यादव उर्फ कल्लू भाई अपनी पत्नि के साथ दुकान बंद होने और आय का जरिया नहीं होने के बाद भी जरूरतमंदों के लिए पहले दिन से सेवा में जुटे है। भोजनालय बंद होने के बाद भी यादव दंपत्ति अपना फर्ज घर में बैठकर निभा रहे हैं। शहर की गौ सेवा समिति और पहल संस्था द्वारा शहर भर के निर्धन परिवारों के लिए भोजन की व्यवस्था बनाई जा रही है। भोजन का निर्माण रोजाना यादव दंपत्ति द्वारा नि:स्वार्थ और बिना मेहनताने के किया जा रहा है।

40 लोगों के लिए बना रहे सुबह-शाम भोजन
लोकनाथ यादव की दुकान लॉकडाउन में बंद पड़ी है। रोजाना भोजनालय में लोगों के लिए भोजन उपलब्ध कराने वाले यादव दंपत्ति दुकान बंद होने के बाद से संस्थाओं द्वारा लोगों को दिए जाने वाले भोजन सुबह शाम तैयार कर रहे है। इसके लिए संस्थानों द्वारा राशन सामाग्री उपलब्ध कराई जा रही है, बनाने की पूरी जवाबदारी यादव दंपत्ति ने संभाली है। रोजाना भोजनालय जैसे स्वाद वाले भोजन तैयार कर इसका पैकेट बनाया जा रहा है जिसे तैयार होने के बाद समिति द्वारा वितरित किया जाता है।

नि:शुल्क दे रहे सेवा दे रहे दम्पत्ति
कल्लू भाई के नाम से मशहूर लोकनाथ यादव और उनकी पत्नि द्वारा सुबह शाम चालीस लोगों का खाना खुद तैयार किया जाता है। दंपत्ति के साथ-साथ उनका पूरा परिवार इसमें अपनी सहभागिता निभा रहा है। भोजन पकाने के लिए खुद के बर्तन, चूल्हा सहित लकड़ी का उपयोग कर यादव दंपत्ति नि:स्वार्थ सेवा भाव से जुटे हैं। भोजन तैयार होने के बाद इसका पैकेट तैयार कर समितियों को दे दिया जाता है जिसे शहर में वितरित किया जा रहा है। यादव दंपत्ति इसे सिर्फ सेवा और जरूरतमंदों की मदद मान रहे है। उल्लेखनीय है लॉकडाउन में पिछले चालीस दिनों से अधिक समय से दुकानदारी बंद होने के बाद भी यादव दंपत्ति सेवा में जुटे मिसाल पेश कर रहे हैं।

Nakul Sinha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned