27 दिन पहले दफनाए गए शव को बाहर निकाल कराया पीएम, जांच में दुर्घटना नहीं हत्या की आशंका ...

सड़क दुर्घटना में मृत ग्रामीण का पुलिस को सूचना दिए बिना किया था अंतिम संस्कार

By: Nitin Dongre

Published: 15 Jul 2020, 07:55 AM IST

डोंगरगढ़. माड़ीतरई निवासी 55 वर्षीय पुनित पिता बिसराम का एक्सीडेंट के बाद इलाज के दौरान हुई मौत के बाद परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया था। मामले की सूचना पुलिस को नहीं दी गई थी, इस वजह से पुलिस ने 27 दिन पहले दफनाए शव को निकलवाकर पीएम करवाया है। पीएम में सिर पर चोट लगने से मौत का खुलासा हुआ है। इसके बाद पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धारा 279, 337 तथा 304 ए के तहत मामला दर्ज कर जांच में जुटी है।

मामला ग्राम माड़ीतराई का है, जहां 3 जून से अपने घर से बेलगांव बाजार करने जा रहे 55 वर्षीय ग्रामीण पुनित को गांव के ही दो युवकों द्वारा ठोकर मार दी गई। इस हादसे में पुनीत के सिर पर गंभीर चोटें आई थीं। इसके बाद बाइक सवार फरार हो गए थे। पुलिस ने जांच की तो मालूम चला कि ग्रामीण का एक्सीडेंट नहीं हुआ है। बल्कि उसे सिर पर मारा गया था।

भिलाई के निजी अस्पताल में कराया गया था भर्ती

स्थानीय अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद डाक्टरों ने उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर किया था, लेकिन परिजन उसे भिलाई के निजी अस्पताल ले गए, जहां इलाज के दौरान 17 जून को उसकी मौत हो गई। परिजनों ने इस पूरे मामले की सूचना पुलिस को दिए बिना ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया। डोंगरगढ पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned