टोलागांव में आज से शुरू होगी गोबर की खरीदी, फिलहाल गौठानों में खरीदी के बाद वर्मी कंपोस्ट किया जाएगा तैयार ...

शहर में बनेगी पशुपालकों की सूची, गौठानों में ही होगा उपयोग

By: Nitin Dongre

Updated: 20 Jul 2020, 07:58 AM IST

खैरागढ़. शासन के गोधन योजना के तहत ब्लाक में गोबर खरीदी की शुरूआत आज टोलागांव पंचायत में वृहद कार्यक्रम के साथ होगी। पंचायत स्तर पर इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है। ब्लाक में पहले चरण में बनाए गए 15 और दूसरे चरण में बने 25 कुल 40 गौठानों में गोबर खरीदी की जाएगी।

शनिवार से इसकी तैयारी पूरी कराने प्रशासनिक अधिकारी कर्मचारी मौके पर मौजूद रहे। टोलागांव में बने गौठान में गोबर खरीदी की विधिवत शुरूआत आज हरेली पर्व पर की जाएगी। कार्यक्रम में डोंगरगढ़ विधायक और अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष भुनेश्वर बघेल सहित जनप्रतिनिधि मौजूद रहेंगे। ब्लाक के टोलागांव सहित आज से प्रकाशपुर, मुतेड़ा, झींकादाह, अमलीडीहकला, करेला, गर्रापार, मदनपुर, जोरातराई, कोटरीछापर, सिरसाही और बघमर्रा में भी गोधन न्याय योजना की शुरूआत होगी। इसके लिए कृषि विभाग ग्रामीण यांत्रिकीय सेवा संभाग, जनपद पंचायत के अधिकारियों कर्मचारियों को तैनात किया गया है। चरणबद्ध तरीके से न्याय योजना की शुरूआत करने अधिकारियों कर्मचारियों को तैनात किया गया है।

गौठानों में ही होगा उपयोग

प्रांरभिक तैयारियों के बीच टोलागांव में गोबर खरीदी योजना की शुरूआत आज होगी। ब्लाक के अन्य गौठानों में भी इसकी तैयारी शुरू की जा चुकी है। लगभग पूरी तरह तैयार हो चुके 40 गौठानों में ग्रामीणों से गोबर खरीदी की जाएगी। दो रू किलों में खरीदे जाने वाले गोबर को फिलहाल गौठानों में बनाए गए टंकियों में ही रखकर वर्मी कम्पोस्ट तैयार किया जाएगा। गोधन योजना के तहत पंचायत सहित आसपास के गोधन पालक और पशु मालिक गौठानों में सीधे तौर पर गोबर की बिक्री कर सकेंगे। गोबर खरीदी की प्रक्रिया गौठान समिति द्वारा की जाएगी। वर्मी कम्पोस्ट खाद तैयार किए जाने महिला समूहों संगठनों का सहयोग लिए जाने की तैयारी है।

शहर में बनेगी पशुपालकों की सूची

नगर क्षेत्र में गोधन योजना की शुरूआत में सोमवार से शहर के पशुपालकों की सूची तैयार कर पंजीयन कार्य प्रांरभ किया जाएगा। निकाय स्तर पर पंजीयन प्रक्रिया के बाद पंजीकृत पशुपालकों से एसएलआरएम सेंटर कम्पोस्ट शेड के द्वारा गोबर खरीदी शुरू कराई जाएगी। इसके लिए पंजीकृत पशुपालकों को कार्ड भी जारी किए जाएंगे। शहर में गौठान की व्यवस्था फिलहाल नहीं होने के कारण पंजीयन सहित अन्य कार्यवाही पूरी होने के बाद मणिकंचन केन्द्रों में खरीदी की तैयारी है, लेकिन इसके लिए शासन के दिशा-निर्देश आने के बाद प्रक्रिया शुरू होगी।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned