प्रोफेसर दंपती ने किया ऐसा नेक काम, लोग कर रहे सलाम, आप भी जरूर पढि़ए दुनिया बदलने की सोच रखने वालों की कहानी

प्रोफेसर दंपती ने किया ऐसा नेक काम, लोग कर रहे सलाम, आप भी जरूर पढि़ए दुनिया बदलने की सोच रखने वालों की कहानी

Dakshi Sahu | Publish: Aug, 16 2019 01:34:55 PM (IST) Rajnandgaon, Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

दंपती ने नगर-निगम प्रशासन को को 50-50 हजार रुपए का चेक भेंट कर शहर में वृहद स्तर पर पौधरोपण करने की अपील की है।

राजनांदगांव. शहर के प्रोफेसर दंपती डॉ. ओंकार लाल श्रीवास्तव और डॉ. सुमीता श्रीवास्तव ने पर्यावरण संरक्षण को लेकर एक अनूठा प्रयास किया है। दंपती ने नगर-निगम प्रशासन को को 50-50 हजार रुपए का चेक भेंट कर शहर में वृहद स्तर पर पौधरोपण करने की अपील की है। डॉ. ओंकार लाल श्रीवास्तव कमला कॉलेज में मैथ्स के प्रोफेसर हैं। वहीं डॉ. सुमीता श्रीवास्तव दिग्विजय कॉलेज में इकोनॉमिक्स पढ़ाती हैं।

पर्यावरण संरक्षण के लिए दान की राशि
प्रोफेसर श्रीवास्तव पर्यावरण संरक्षण व पौधरोपण की दिशा में सालों से लगातार उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं। इसके तहत वे शहर से लेकर गांवों में पौधरोपण व पर्यावरण संरक्षण को लेकर लोगों को जागरुक करते हैं। इसके अलावा लोगों को मुफ्त में पौधे भी वितरित करते हैं। कुछ गांवों में उन्होंने युवाओं की टीम बनाकर पौधरोपण कराया है, जो अब पेड़ बन चुके हैं। डॉ. सुमीता ने अपनी स्वर्गीय माता जो कन्या महाविद्यालय बरेली में संस्कृत की प्राध्यापक थीं के नाम से रुपए पचास हजार कमला कॉलेज से लेकर आरके नगर के डिवाइडर व रोड किनारे पीपल, नीम, कदम्ब, आम, अमलतास तथा फूलदार पौधों का रोपण कराने की बात कही।

Read more: अलग सोच से पांच सरकारी शिक्षकों ने संवार दी गरीब, जरूरतमंद बच्चों की जिंदगी, पढि़ए राष्ट्र निर्माताओं की जिंदादिल कहानी...

पिता ने नाम से दान की राशि
डॉ. ओंकार ने 50 हजार रुपए अपने स्वर्गीय पिता प्रकाश लाल श्रीवास्तव के नाम से गौरव पथ के बगल में विभिन प्रकार के औषधीय उद्यान एवं डिवाइडर पर पौधरोपण के लिए राशि दी है। श्रीवास्तव दंपती ने चेक निगम कमिश्नर चंद्रकांत कौशिक को दी। आयुक्त निगम चंद्रकांत कौशिक ने बताया कि शहर के प्रोफेसर दंपती ने पर्यावरण संरक्षण के लिए एक पुनीत कार्य किया है। इस तरह का योगदान अन्य बड़े उद्योगपतियों व व्यापारियों से भी मिले तो बेहतर कार्य हो सकते हैं, चूंकि पर्यावरण संरक्षण की जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की नहीं, वरन सबकी है।

आयुक्त कौशिक ने बताया कि पौधरोपण महाअभियान को सफल बनाने सांसद संतोष पांडे ने भी अपनी निधि से 5 लाख रूपए दिए हैं। शक्ति गृह निर्माण समिति ने अपने कालोनी में पौधरोपण के लिए जाने 5 लाख रुपए, जिला सतनामी सेवा समिति द्वारा 60 हजार, प्लास्टिक ऐसोसिएशन द्वारा 35 हजार, महापौर के सचिव देवेंद्र सोनी ने अपनी माता स्व. दुलारी बाई सोनी की स्मृति में 4 हजार रुपए दिए हंै। साथ ही महापौर मधुसूदन यादव द्वारा एक माह का का मानदेय तथा नगर निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों ने भी पौधरोपण के लिए 1 दिन का वेतन दिया है।

एक लाख पौधे रोपने का लक्ष्य
एक कदम संस्था, रनर ग्रुप, विभिन्न बैकों द्वारा भी शहर के विभिन्न स्थानों में पौधरोपण कर रहे हंै। साथ ही कई संस्थाओं द्वारा पौधे दिया जा रहा है और उसकी सुरक्षा की जवाबदारी ली जा रही है। शहर के 51 वार्डों में कुल एक लाख पौधे रोपने का लक्ष्य निगम प्रशासन ने रखा है। इसके तहत अब तक शासकीय निजी संस्थाओं, स्कूलों, कालेजों, उद्यानों, मैदानों, रोड के किनारे आदि क्षेत्र में लगभग 25 हजार पौधे रोपित किए जा चुके हैं।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned