पान दुकान खुलने के बाद भी मुनाफाखोरी जारी, तीन गुना ज्यादा दामों पर बिक रहे सामान

लॉकडाउन के दौरान कुछ व्यापारी अधिक लाभ कमाने कर रहा गोरखधंधा

By: Nakul Sinha

Published: 10 May 2020, 06:45 AM IST

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. विश्वव्यापी कोरोना वायरस के चलते पूरे प्रदेश में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है। नगर के कई दुकानों को सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक खोलने की छूट दी है। बीते 2 दिनों से पान दुकानों को भी खोलने की छूट दी गई है किंतु इसके बाद में भी मुनाफाखोरी का गोरखधंधा थम नहीं रहा। वहीं कुछ सामानों की कीमत कुछ कम जरूर हुई है किंतु अभी भी बीड़ी, सिगरेट, गुड़ाखू, तंबाकू दो से तीन गुने दाम पर बिक रहे हैं। लॉकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं के अलावा धीरे-धीरे कई दुकानों को सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक छूट दी गई तंबाकू गुड़ाखू एवं बीड़ी सिगरेट के शौकीनों की मांग और इन दुकानों के बंद होने के कारण गुड़ाखू, गुटका, बीड़ी सिगरेट की कालाबाजारी को देखते हुए पान ठेला को खोलने की इजाजत दे दी गई जो बीते 2 दिनों से खुल भी रहे हैं किंतु अभी भी गुटका, पाउच, सिगरेट, गुड़ाखू, तंबाकू आदि के शौकीनों को इन सभी चीजों की ज्यादा कीमत देकर खरीदना पड़ रहा है। इस दौरान इन चीजों की बिक्री चोरी-छिपे खूब हुई और दुकानदारों ने अपना काम स्टार्ट भी कर लिया। जिसे वे छोरी छुपे ज्यादा कीमत पर बेच रहे थे इन वस्तुओं की मांग को देखते हुए मुनाफाखोरी जारी है।

सप्लाई में कमी के चलते कीमतों में इजाफा
नगर के चौरसिया पान ठेला के संचालक अजय चौरसिया ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान तंबाकू, गुटका, बीड़ी, सिगरेट काफी बिके जिससे अधिकांश लोगों के पास से उसका स्टाक खत्म हो गया और जिसके पास स्टॉक था उन्होंने इसे दबा दिया है। अब वे इन्हें पान ठेले वालों को ज्यादा कीमत में बेच रहे हैं जिससे कि पान ठेला वाले भी अपना मुनाफा जोड़कर ज्यादा कीमत में उक्त माल को बेच रहे हैं। पान ठेला वालों का कहना है कि सप्लाई नहीं हो रही है जिसके कारण वह यह सामान प्रिंट रेट से ज्यादा कीमत में बेच रहे हैं।

Nakul Sinha Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned