एसडीएम कार्यालय का ऐसा मोह यहां पार्टी छोड़ एक मंच पर आए नेता

एसडीएम कार्यालय का ऐसा मोह यहां पार्टी छोड़ एक मंच पर आए नेता

Satyanarayan Shukla | Publish: Jul, 29 2017 03:46:00 PM (IST) Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

छुईखदान नगर में एसडीएम कार्यालय खुलवाने की मांग को लेकर शनिवार को नगर बंद रखा गया है। इस बंद का खासा असर देखने को मिल रहा है ।

राजनांदगांव. छुईखदान नगर में एसडीएम कार्यालय खुलवाने की मांग को लेकर शनिवार को नगर बंद रखा गया है। इस बंद का खासा असर देखने को मिल रहा है । सभी दुकानें चमाचम बंद है। वहीं जय स्तंभ चौक के पास सभी दलों के जनप्रतिनिधि एकजुट होकर नगर विकास के मुद्दों पर अपनी बात रख रहे हैं।

विशेष तौर पर छुईखदान में एसडीएम कार्यालय खुलवाने की मांग की जा रही है। वहीं दो राजस्व निरीक्षक मंडल पदस्थापना की मांग भी की जा रही है। आंदोलन में जुटे नेताओं का कहना है किस साल्हेवारा में भी राजस्व निरीक्षक कार्यालय खोला जाए। वही साल्हेवारा को छुई खदान एसडीएम कार्यालय से संबद्ध रखा जाए।

सभी दलों के नेता रहे मौजूद
इन मंागों को लेकर आंदोलन को गति देने यहां नागरिक विकास मंच के बैनर तले आम सभा का आयोजन रखा गया है। इस सभा में भाजपा कांग्रेस के साथ ही अन्य दलों के नेता भी मौजूद हैं। जिला मुख्यालय से काफी दूर होने की वजह से हर काम के लिए इन्हें परेशान होना पड़ता है। इसलिए एसडीएम कायाज़्लय के साथ ही डीईओ कायाज़्लय खोलने की भी मांग की जा रही है ।

पहली बार नगर बंद को जबरदस्त समर्थन मिला है। बाजार बंद है सरकारी कायज़् में भी सन्नाटा पसरा हुआ है। इसी इसी तरह कृषि प्रधान क्षेत्र होने की वजह से यहां कृषि विश्वविद्यालय खोलने की भी मांग की जा रही है क्षेत्र के रहवासियों का कहना है कि ज्यादातर लोग कृषि पर आधारित हैं नई पीढ़ी को कृषि क्षेत्र से जोडऩा है तो क्षेत्र में कृषि विश्वविद्यालय खोला जाना चाहिए ताकि हायर एजुकेशन के लिए स्थानीय युवाओं को दूसरे शहर न जाना पड़े। इसी तरह छुईखदान के साथ ही जिला मुख्यालय से 120 किलोमीटर दूर साल्हेवारा में भी आज बंद रखा गया।

वहां भी जनप्रतिनिधि सभा लेकर साल्हेवारा के विकास की मांग कर रहे हैं। ज्ञात हो की साल्हेवारा साल्हेवारा मुख्यालय से काफी दूर में है। इस कारण वनांचल के रहवासियों को हर काम के लिए लंबी दूरी तय करनी पड़ती है। अपेक्षित विकास भी यहां नहीं हो पाया है। इस कारण से क्षेत्रवासियों को अब आंदोलन का रास्ता अपनाना पड़ रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned