फिल्मी स्टाइल में बंटी-बबली बनकर ये कपल रखता था नकली सोना गिरवी, 16 लाख की ठगी के बाद चढ़े पुलिस के हत्थे

नकली सोना को गिरवी रख कर लाखों रुपए ठगी के मामले में पुलिस ने एक महिला और उसके पुरूष दोस्त (बंटी-बबली) को नागपुर के एक होटल से गिरफ्तार कर लिया है। (Rajnandgaon news)

By: Dakshi Sahu

Published: 01 Mar 2020, 03:30 PM IST

राजनांदगांव. पिछले दिन शहर के दो ज्वेलरी दुकान में एक महिला द्वारा नकली सोना को गिरवी रख कर लाखों रुपए ठगी के मामले में पुलिस ने एक महिला और उसके पुरूष दोस्त (बंटी-बबली) को नागपुर के एक होटल से गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपी ठगी करने के बाद नेपाल व दिल्ली घूमने चले गए थे। इसके बाद नागपुर पहुंचे। पुलिस मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरोपियों तक पहुंची। आरोपियों द्वारा शहर के दो ज्वेलरी दुकान और दुर्ग के एक बैंक से लगभग 16 लाख रुपए धोखाधड़ी की थी।

कुछ दिन पहले शहर के पारख ज्वेलर्स में एक महिला द्वारा रुपए की जरुरत पडऩे का हवाला देकर नकली सोने के जेवरात को गिरवी रख 5 लाख रुपए धोखाधड़ी का मामला हुआ था। दुकान संचालक द्वारा इसकी शिकायत कोतवाली थाना में की गई थी। इसके बाद शहर के ही गहना ज्वेलर्स में भी उक्त महिला द्वारा नकली सोने के जेवरात को गिरवी रख कर 3 लाख 40 हजार रुपए ठगी कर ले गई थी। दोनों मामले में आरोपी महिला द्वारा करीब 9 लाख रुपए ठगी की गई थी। पुलिस दोनों मामले को गंभीरता से लेते हुए अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में जुटी थी।

एसपी ने इनाम की घोषणा की
मामले के सुलझाने में कोतवाली टीआई बिरेन्द्र चतुर्वेदी, उप निरीक्षक नरेन्द्र शर्मा, उप निरीक्षक भोला सिंह, सहायक उप निरीक्षक एनबी सिंह, प्रधान आरक्षक बसंतराव, जी सिरिल, महिला टीम की अभिलाषा यादव, तीजन डहरिया, अफसाना खान, नाजमीन खान की भूमिका रही। आरोपियों को पकडऩे वाली टीम को एसपी बीएस ध्रुव द्वारा इनाम की घोषणा की गई है।

तांबे के ऊपर चढ़ाते थे सोने की परत
सीएसपी श्याम सुंदर शर्मा ने प्रेसवार्ता में बताया कि दोनों आरोपियों द्वारा ज्वेलरी दुकान के अलावा दुर्ग के आईसीआईसीआई बैंक में 295 ग्राम नकली सोना गिरवी रख कर 7 लाख 24 हजार रुपए ठगी किया गया था। उन्होंने बताया कि आरोपियों द्वारा तांबे के उपर सोने का परत चढ़ा कर हॉल मार्क से अंकित सोना बता कर नकली जेवरात को गिरवी रख धोखाधड़ी कर रुपए ले लिया जाता था।

प्रेसवार्ता में सीएसपी श्याम सुंदर शर्मा ने बताया कि मामले में आरोपी महिला दुर्ग निवासी दीक्षा गजभिए और उसके पुरुष मित्र राजनांदगांव के चिखली निवासी रोहित नागवानी को नागपुर के एक होटल से गिरफ्तार कर यहां लाई है। उन्होंने बताया कि ज्वेलरी दुकान में ठगी करने के बाद दोनों आरोपी दिल्ली, पटना, नेपाल की सैर कर नागपुर पुहंचे थे। सीएसपी शर्मा ने बताया कि पुलिस दोनों की तलाश में जुटी थी। इस दौरान दोनों का मोबाइल लोकेशन नागपुर पता चलने पर टीम होटल में दबिश दी और दोनों को धर दबोचा। शर्मा ने बताया कि आरोपी बंटी-बबली शातिर अंदाज में घूम रहे थे।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned