बिजली की समस्या से आक्रोशित ग्रामीणों ने रोक दी हाईवे की रफ्तार

छुईखदान क्षेत्र में लंबे समय से लो वोल्टेज सहित बिजली की कटौती से आक्रोशित ग्रामीणों ने नर्मदा चौक (हाईवे) पर चक्काजाम कर दिया।

By: Satya Narayan Shukla

Published: 18 Aug 2017, 02:12 PM IST

राजनांदगांव. छुईखदान ब्लाक अंतर्गत पैलीमेटा क्षेत्र में लंबे समय से लो वोल्टेज सहित बिजली की अवैध कटौती से आक्रोशित ग्रामीणों ने नर्मदा चौक (हाईवे) में चक्काजाम कर दिया।

गाडिय़ों की लंबी लाइन
यहां दर्जनभर से अधिक गांव के ग्रामीण सैंकड़ों की संख्या में मौजूद हैं। सुबह 11 बजे से प्रदर्शन में बैठे ग्रामीणों को अब तक नहीं मनाया जा सका है। करीब डेढ़ घंटे से अधिक समय तक ग्रामीण सड़क पर बैठे हैं। ऐसे में दोनों ओर गाडिय़ों की लंबी लाइन लग चुकी है। भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं।

विधायक मुर्दाबाद के नारे भी लगाए

मान-मनौव्वल के लिए पहुंचे कांग्रेस के विधायक को भी प्रदर्शनकारियों ने खदेड़ दिया है। प्रदर्शनकारी ग्रामीण बेहद आक्रोशित हैं। विधायक के पहुंचने पर उन्होंने मामले में राजनीति नहीं करने की बात कहते हुए विधायक मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। विपरीत स्थिति को भांपकर विधायक वहां से निकल गए।

30 गांवों में इन दिनों बिजली की आंख मिचौली

बता दें कि शुक्रवार को सड़क पर चक्काजाम करने की चेतावनी ग्रामीणों ने जिला प्रशासन को पहले ही दे दी थी। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि पैलीमेटा क्षेत्र के लगभग 30 गांवों में इन दिनों बिजली की आंख मिचौली से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आए दिन यहां बिजली कटौती कर दी जाती है। इसके अलावा लो-वोल्टेज की भी बड़ी समस्या है।

31 जुलाई को कलक्टर भीम सिंह को भी ज्ञापन

ग्रामीणों ने बताया कि इस समस्या को लेकर 31 जुलाई को कलक्टर भीम सिंह को भी ज्ञापन दिया गया था। उन्होंने 4 दिन में व्यवस्था दुरुस्त कराने का आश्वासन दिया था। इसके बाद भी व्यवस्था में सुधार नहीं हुई। ग्रामीणों ने बताया कि दिन हो या रात 24 घंटे में सिर्फ एक घंटे ही बिजली मिल रही है। अगर बिजली आ भी गई तो कुछ देर के बाद लो-वोल्टेज होकर बंद हो जाती है।

नल-जल योजना से पानी नहीं मिल रहा

बिजली की समस्या के चलतेे पिछले तीन महीने से नल-जल योजना से पानी नहीं मिल पा रहा है। बासी पानी पीकर लोग बीमार पड़ रहे हैं। क्षेत्र के तालाब, कुएं भी सूख गए हंै। वहीं हैंडपंप में जल स्तर नीचे चले जाने से लोग परेशान हैं। राष्ट्रीय पर्व 15 अगस्त को सिर्फ एसडीएम आने के समय कुछ देर ही बिजली चालू थी उसके बाद से बिजली बंद रही।

Show More
Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned