पति ने की पत्नी की हत्या फिर बेटे के साथ मिलकर खाद के गड्ढे में छिपा दी लाश

पति ने की पत्नी की हत्या फिर बेटे के साथ मिलकर खाद के गड्ढे में छिपा दी लाश
was killed his wife hid body along with Son

जांच में खुलासा हुआ कि उषा बंजारे की हत्या पति ने की थी और साक्ष्य छिपाने के लिए बड़े बेटे के साथ मिलकर शव को खाद के गड्ढे में छिपा दिया था।

राजनांदगांव. खैरागढ़ थाना क्षेत्र के जुरलाकला के शमशान के पास खाद के गड्ढे में 5 अक्टूबर को दामरी निवासी उषा बंजारे की लाश बरामद हुई थी। पुलिस ने मामले में हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर लिया था। जांच में खुलासा हुआ कि हत्या पति ने की थी और साक्ष्य छिपाने के लिए बड़े बेटे के साथ मिलकर शव को खाद के गड्ढे में छिपा दिया था। पति और पुत्र पहले तो शव को पहचानने से इंकार कर रहे थे, मृतका के पिता राधेलाल ने शिनाख्ती की, तब आरोपियों ने मुंह खोला।

प्रथम दृष्टया ही मामला हत्या का लग रहा था 
रविवार को पुलिस नियंत्रण कक्ष में एएसपी शशिमोहन सिंह ने पत्रवार्ता में बताया कि शव बरामद होने पर प्रथम दृष्टया ही मामला हत्या का लग रहा था। शव परीक्षण से पता चला था कि महिला की मौत सिर पर चोट लगने व गला दबाने से हुई है। शिनाख्ती को लेकर दिक्कत हो रही थी। 

मृतका के पिता ने पहचान किया
इस बीच पता चला कि दामरी निवासी याजेन्द्र बंजारे घर से लापता अपनी पत्नी को तलाश रहा है। उक्त व्यक्ति और उसके बेटा ओमेश बंजारे से पूछताछ की गई तो दोनों ने शव कि शिनाख्ती नहीं की। बाद में मृतका के पिता ने पहचान किया। इस बात पर संदेह होने पर पति और बेटे से कड़ाई से पूछताछ हुई, तब आरोपियों से एक के बाद एक राज खोला। 

आरोपी ने साड़ी से गला दबा दिया
बताया कि घटना के दिन जमीन बिक्री की रकम लेने खैरागढ़ गए थे। सेठ से रुपए लेने के बाद बाप-बेटे ने शराब पी। घर पहुंचे तो मृतका भी नशे में थी। इस बीच पति-पत्नी में विवाद हो गया। धक्का देने पर उषा बाई दरवाजे में लगे नुकीले वस्तु से टकरा गई, वह बेहोश होकर गिरी पड़ी थी। इस बीच आरोपी ने साड़ी से उसका गला दबा दिया। इस दौरान बड़ा बेटा हाथ, मुंह धोने बाड़ी की ओर गया था, लौटा तब मां उषा बाई नहीं थी। पिता से पूछताछ कि तब बताया कि उसने हत्या कर दी है।

खाद के गड्डे में फेंक दिया था
लाश को दोनों ने वैन में भरकर जुरलाकला के शमशान के पास खाद के गड्डे में फेंक दिया था। एएसपी सिंह ने बताया कि मामले में आरोपी पति के खिलाफ धारा 302 और बेटे के खिलाफ साक्ष्य छिपाने पर 201 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned