गृह निर्माण मंडल के ईई पर कार्रवाई के लिए जिला प्रशासन ने की अनुसंशा

गृह निर्माण मंडल के ईई पर कार्रवाई के लिए जिला प्रशासन ने की अनुसंशा

Govind Sahu | Updated: 11 Jul 2019, 08:27:20 PM (IST) Rajnandgaon, Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

विशेष सचिव को लिखा पत्र, अन्यत्र पदस्थापना करने की मांग, अधीनस्थ कर्मचारियों ने प्रताडि़त करने का लगाया था आरोप, एक ने कर ली थी आत्महत्या

राजनांदगांव.
गृह निर्माण मंडल के ईई सीएस बेलचंदन को राजनांदगांव से अन्यत्र स्थानांतरित करने के लिए जिला प्रशासन ने आवास एवं पर्यावरण विभाग के विशेष सचिव पी संगीता को पत्र लिखा है। जिला प्रशासन ने पत्र में ईई के खिलाफ लगे आरोप व जांच में मिले बिंदुओं को उल्लेख करते हुए यह पत्र लिखा है। इसके अलावा पत्र में यह भी कहा गया है कि ईई व अधीनस्थ कर्मचारियों के बीच चल रहे खींचतान की वजह से विभाग का कार्य प्रभावित हो रहा है और शासन-प्रशासन की छवि भी धूमिल हो रही है।


पत्र में उल्लेख है कि गृह निर्माण मंडल के ईई बेलचंदन के खिलाफ अपने अधीनस्थ अधिकारी-कर्मचारियों को प्रताडि़त करने का आरोप लगा था, जिसकी जांच के लिए टीम गठित की गई थी। जांच में ईई व कर्मचारियों के बीच समन्वय का अभाव, ईई के खिलाफ रोष है।


कलक्टर ने लिखा है कि ईई मुख्यालय में निवास नहीं करते। दुर्ग से आना-जाना करते हैं। उनके द्वारा कार्यालयीन सभी शासकीय कर्मचारियों का वेतन अनुशासनहीनता का आरोप लगाकर रोक दिया गया है, जो कि इनके स्वयं के द्वारा कार्यलय में नियम विरूद्ध मनमानी तरीके से कार्य करने एवं अनुशासन तोडऩे का स्पष्ट प्रमाण है। अत: संभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों में व्याप्त आक्रोश एवं प्रशासन की छवि को दृष्टिगत रखते हुए उनका स्थानांतरण अन्यत्र कर उनके स्थान पर अन्य अधिकारी की पदस्थापना की जाए।

एक कर्मचारी ने की थी आत्महत्या
ज्ञात हो कि गृह निर्माण मंडल के ईई व कर्मचारियों के बीच लंबे समय से वाद-विवाद चल रहा है। ईई पर कर्मचारियों से जबर्दस्ती अपने निजी कार्य लेने सहित आर्थिक व मानसिक रूप से प्रताडि़त करने का सनसनी खेज आरोप लगातार लगते रहे हैं। कर्मचारी उनके खिलाफ कलम बंद हड़ताल पर भी उतरे थे। ईरा निवासी एक प्लंबर ने प्रताडऩा का आरोप लगाकर खुदकुशी भी कर ली थी। हालांकि इस मामले में सोमनी पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया था। ज्ञात हो कि इस मसले पर 'पत्रिकाÓ ले लगातार खबर प्रकाशित कर ईई द्वारा की जा रही गड़बडिय़ों को उजागर किया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned