कम्यूनिटि स्प्रेड को रोकने की जा रही सख्ती, संदिग्धों की सैंपल रिपोर्ट का इंतजार ...

कोरोना वायरस को लेकर प्रशासन उठा रहा एहतियात

By: Nitin Dongre

Updated: 28 Mar 2020, 04:23 PM IST

राजनांदगांव. कोरोना वायरस के 'कम्यूनिटी स्प्रेडÓ को रोकने प्रशासन ने यहां सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। राजनांदगांव के कोरोना पाजिटिव आए युवक के संपर्क में आए लोगों की पड़ताल कर उन सबको होम आइसोलेशन में रहने कहा गया है। इसके अलावा उससे मिले अन्य लोगों की पड़ताल की जा रही है। इधर गुरुवार को भेजे गए सैंपल की जांच रिपोर्ट फिलहाल नहीं आई है। जिले के कुछ सैंपल जांच के लिए कल और भेजे जाएंगे।

राजनांदगांव शहर के एक युवक के कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बाद यहां विशेष सतर्कता बरती जा रही है। प्रशासन ने कम्यूनिटी स्पे्रड को रोकने हर स्तर पर प्रयास तेज कर दिया है। भरकापारा इलाके को सील करने के बाद उस मोहल्ले में रहने वाले लोगों के साथ ही कोरोना पाजिटिव के संपर्क में आए लोगों को लेकर भी सतर्कता बरती जा रही है।

होगी कड़ी कार्रवाई

कलक्टर जयप्रकाश मौर्य ने जिले के सभी नागरिकों से अपील की है कि वे कफ्र्यू के नियमों का पालन करें। नियमों का पालन नहीं करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि विदेश से आये लोग जिन्हें होम क्वारेंटाइन या होम आइसोलेशन में रखा गया है, वे घर से बाहर न निकलें, नहीं तो उन पर 10 हजार रूपए का अर्थदंड लगाया जाएगा। फाइन नहीं देने पर उन पर एफआईआर होगी और यदि उसकी कोई दुकान आदि हो तो सील भी कर दी जाएगी। जिस क्षेत्र को सील किया गया, वहां के लोगों को घूमते पाए जाने पर 5 हजार रूपए का फाइन, एफआईआर, दुकान सील करने की कार्रवाई की जाएगी। आम लोग जो बिना कारण के घूमते हुए पाए जाएंगे तो उन पर एक हजार रूपए का फाइन व वाहन सील कर दी जाएगी। इसलिए अनिवार्य सेवाओं में लगे लोग सुबह 7 बजे से दोपहर 12 बजे तक एसडीएम कार्यालय से अपना प्रमाण पत्र प्राप्त कर लें।

श्रमिकों की व्यवस्था करने के निर्देश

कलक्टर मौर्य ने कहा कि अन्य जिलों के श्रमिक जो रोजगार के लिए जिले के विभिन्न फैक्ट्रियों, संस्थाओं, कन्ट्रक्शन कंपनियों, ढाबों में कार्यरत थे, और लॉकडाउन के चलते वे विभिन्न स्थानों पर फंसे हुए हैं, उनके भोजन और रहने की व्यवस्था उनके संस्था प्रमुखों, ठेकेदारों, ढाबा मालिकों को करना होगा। इस संबंध में कोई भी शिकायत प्राप्त होने पर संबंधितों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

भाई के खिलाफ भी हुई एफआईआर

प्रशासन द्वारा भरकापारा क्षेत्र को लॉकडाउन करने के बाद भी कोरोना पाजिटिव युवक के भाई के मोहल्ले में घूमने और कुत्ता लेकर टहलने की शिकायत मिलने के बाद प्रशासन ने उसके खिलाफ भी कार्रवाई की है। भरकापारा निवासी राजगामी संपदा न्यास के अध्यक्ष विवेक वासनिक और अन्य लोगों की लिखित शिकायत के बाद युवक के खिलाफ एफआईआर की गई है। उस पर 10 हजार रूपए का जुर्माना भी लगाया गया है।

फ्लाई ओवर के नीचे लगा बाजार

गोलबाजार इलाके को सील करने के बाद शुक्रवार को शहर का बाजार फ्लाई ओवर के नीचे लगा। सोशल डिस्टेंस का पालन कराने के लिए यह व्यवस्था की गई और काफी हद तक यह व्यवस्था सफल रही। बाजार में खरीदी करने पहुंचे लोगों को इस व्यवस्था के चलते किसी तरह की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ा।

गाडिय़ों को हटाने के निर्देश

कलक्टर मौर्य ने रामदरबार मंदिर से लेकर भदौरिया चौक तक फ्लाई ओवर के नीचे विभिन्न जगहों पर खड़ी गाडिय़ों को तत्काल हटाए जाने के निर्देश दिए हैं। निर्देश में कहा गया कि कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम के लिए नागरिकों को एक निश्चित दूरी के साथ सुविधापूर्ण तरीके से फल, सब्जी और राशन के बाजार की व्यवस्था देने के लिए फ्लाई ओवर के नीचे की जगह चिह्नांकित की गई है। आदेश के अनुसार यहां खड़ी गाडिय़ों के मालिकों से कहा गया है कि वे तत्काल अपनी गाडिय़ां हटा लें वरना वाहनों को जब्त कर नियमानुसार दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

मोहला में मिला संदिग्ध

मोहला. नगर में कोरोना का संदिग्ध मामला मिलने के बाद चर्चा का विषय बना हुआ है। मामला यह है कि एक परिवार में मुखिया को खांसी, हल्के गले में सूजन और चक्कर खाकर गिरने के बाद परिवार के तीन सदस्यों को होम आइसोलेशन पर घर में ही रखा गया है। घटना कल शाम को जब घर का मुखिया चक्कर खाकर घर में ही गिर गया जिसके बाद आनन फानन में इसकी सूचना 112 को दी गई जिसके बाद स्वास्थ्य अमला घर पहुंचकर प्रारंभिक चिकित्सा के बाद परिवार के सदस्यों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। घर का मुखिया पेशे से डॉक्टर है और वह अभी भी गांव-गांव जाकर लोगों का ईलाज कर रहा था।

मुसरा का युवक भी संदिग्ध

डोंगरगढ़. डोंगरगढ़ विकासखंड के अंतर्गत आने वाले ग्राम कातलवाही मुसरा में कोरोना संक्रमण का संदिग्ध युवक मिला है। उसे बुधवार को राजनांदगांव के भरकापारा में पाए गए कोरोना पाजिटिव युवक का दोस्त बताया जा रहा है। जानकारी मिलते ही स्थानीय खंड स्वास्थ्य अधिकारी बीपी एक्का अपनी टीम के साथ ग्राम कातलवाही युवक के घर पहुंच कर उस युवक का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। युवक को घर पर ही आइसोलेशन में रखा गया है स्वास्थ विभाग की टीम लगातार संदिग्ध युवक के घर पर नजर बनाए रखी है। इक्का ने बताया कि कातलवाही का यह युवक राजनांदगांव के मोबाइल दुकान में काम करता था तथा पीडि़त युवक से संपर्क में आया था, ऐसा पता चलने पर उसे घर पर ही आइसोलेशन में रखा गया है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned