प्रतिभावान छात्र-छात्राएं हुए पुरस्कृत, समाज के वृद्धजनों का भी किया गया सम्मान

देवांगन समाज ने मनाई गई परमेश्वरी जयंती

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. धर्मनगरी में मां परमेश्वरी देवी की जयंती 13 फरवरी गुरुवार को धूमधाम से मनाई गई। समाज के युवा विजय देवांगन के निवास पर विभिन्न आयोजन भी किए गए। सर्वप्रथम समाज के बुजुर्गों ने मां परमेश्वरी के चित्र पर माल्यार्पण दीप प्रज्जवलन व पूजन अर्चन कर आराध्य की आरती की। समाज के युवा अध्यक्ष सूर्यप्रकाश देवांगन, उपाध्यक्ष जामवंत देवांगन, सचिव भारतप्रकाश देवांगन व कोषाध्यक्ष सतीश देवांगन सहित कार्यकारिणी सदस्यों ने आयोजन में विशेष रुचि लेकर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए।

विभिन्न स्पर्धाओं का हुआ आयोजन
इस दौरान विभिन्न प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गई। महिलाओं की कुर्सी दौड़ में चिंतामणि देवांगन प्रथम रही, बच्चों की कुर्सी दौड़ में तन्यास देवांगन ने बाजी मारी, बालक-बालिकाओं द्वारा नृत्य भी प्रस्तुत किए गए भूमि एवं प्राची के बस्तरिया नृत्य ने लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। मेहंदी प्रतियोगिता हर्षा देवांगन ने जीती, चित्रकला में तन्यास देवांगन प्रथम रहे, महिला व पुरुष वर्ग में प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोगों ने रुचि दिखाई। लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

बोर्ड परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र हुए सम्मानित
इस अवसर पर समाज के बच्चे जो कक्षा पांचवी, आठवीं, दसवीं एवं बारहवीं में प्रथम स्थान पर आए बच्चों को पुरस्कृत किया गया। राष्ट्रीय प्रतिभा खोज में सफल सृजन पिता सूर्य प्रकाश देवांगन तथा जूनियर वैज्ञानिक बन इसरो में चयन होने पर योगेश पिता चंद्रप्रकाश देवांगन को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर समाज के बुजुर्ग महिला पुरुषों को श्रीफल व प्रतीक चिन्ह देकर उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया। इस अच्छी परंपरा की सभी ने सराहना की। समाज में एकजुटता प्रदर्शित करने आगे भी इस तरह के कार्यक्रम आयोजित करने का संकल्प लिया गया।

युवाओं से समाज की एकता को बनाए रखने किया आह्वान
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए समाज के वरिष्ठ एनआर देवांगन ने युवाओं के साथ समाज की एकता के लिए कदम मिलाकर चलने का आह्वान किया। समय के साथ जागरूकता प्रदर्शित करने की बात कही। मां परमेश्वरी देवी की महिमा का बखान भी उन्होंने किया। अच्छे कार्यक्रमों में पूर्ण रूप से सहयोग देने का आश्वासन भी दिया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महिलाएं भी उपस्थित थीं।

Nakul Sinha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned