प्रशासन ने नहीं ली सुध, वार्डवासियों ने नदियों की सफाई का उठाया बीड़ा, उतरे पानी में

त्रिवेणी महाअभियान की हुई शुरूआत

By: Nakul Sinha

Published: 10 Apr 2019, 05:06 AM IST

राजनांदगांव / खैरागढ़. निस्तारी सहित अन्य समस्याओं को लेकर पिपरिया नदी में जमी गाद और गंदगी को साफ करने प्रशासन का रास्ता देखे बगैर आम लोग सामने आए। पिपरिया, आमनेर और मुस्का नदियों की सफाई का आगाज करते हुए निर्मल त्रिवेणी महाअभियान की शुरुवात की गई। युवा समाजसेवी भागवत शरण सिंह, पार्षद गिरवर पटेल, पीयूष पटेल, सफिया बेगम, शबाना बेगम, कीर्ति वर्मा, सुखेंद्र वर्मा सहित बड़ी संख्या में पिपरिया वार्ड की रहवासी खासकर महिलाएं इस अभियान का हिस्सा बनी। महिलाएं खुद पानी में उतरी और नदी सफाई अभियान का शंखनाद किया।

हटाए जलकुंभी व खरपतरवार
पिपरिया नदी में पिपरिया वार्ड के अधिकांश लोग निस्तारी करते है हर साल गर्मी पूर्व यहां मुख्य घाट पर नदी में गाद गंदगी सहित खरपतवार और जलकुंभी ज्यादा मात्रा में जमा हो जाते है। पिछले साल भी नगरपालिका सहित वार्डवासियों के सहयोग से यहां सफाई अभियान चलाकर सफाई की गई थी। घाट में सफाई नही होने से निस्तारी सहित लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। खरपतवार और जलकुंभी के कारण घाट में पानी होने के बाद भी लोगों को इसका लाभ नही मिल पाता। जिसके बाद इसके सफाई का बीड़ा उठाया गया। इस बार आचार संहिता के आड़े आने पर नवयुवकों, महिलाओं सहित वार्डवासियों ने खुद ही मोर्चा संभालते सफाई अभियान की शुरूआत की। अभियान में महिलाओ की बड़ी भागीदारी देख वार्डवासियों ने भी अपना पूरा समर्थन दिया। बताया गया कि अभियान को लगातार जारी रखा जाएगा।

Nakul Sinha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned