क्वारेंटाइन सेंटरों में रोके गए लोगों के स्वास्थ्य जांच सहित नियमों का पालन कराने अलर्ट हुआ प्रशासन ...

स्वास्थ्य विभाग सहित अधिकारी कर रहे सतत मानिटरिंग, लक्षण पर हो रही जांच

By: Nitin Dongre

Updated: 24 May 2020, 08:14 AM IST

खैरागढ़. कोरोना संक्रमण रोकने पंचायत मुख्यालयों में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटरों में अब निरीक्षण सहित जांच का दायरा बढ़ा दिया गया है। महाराष्ट्र, गुजरात, हैदराबाद मुंबई सहित बाहरी इलाकों से आ रहे लोगो को संक्रमण रोकने क्वारेंटाइन किया जा रहा है। अन्य जिलों में पिछले तीन दिनों में ही प्रवासियों में संक्रमण वाले मरीज मिलने के बाद स्थानीय प्रशासन यहां अलर्ट मोड़ पर आ गया है। स्वास्थ्य अधिकारी सहित पूरा अमला इन सेंटरों में त्वरित निरीक्षण के लिए डटा है। बीएमओ डॉ. विवेक बिसेन खुद रोजाना दर्जन भर से अधिक सेंटरों का निरीक्षण कर रहे है। हालांकि अभी तक संक्रमण की चपेट में ब्लॉक नहीं आया है। स्वास्थ्य अमला इसको लेकर खासा सतर्क है ताकि यहां कोरोना की रोकथाम पूरी तरह सफल हो सके।

अन्य प्रदेशों से आ रहे ग्रामीणों को शासन के आदेश के बाद पंचायत मुख्यालयों में ही बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटरों में रखने के निर्देश का पालन खैरागढ़ ब्लॉक में भी किया जा रहा है। ब्लाक में अब तक साढ़े तीन हजार से अधिक लोग क्वारेंटाइन किए गए हैं। दो सौ से अधिक लोगों को 14 दिन की अवधि पूर्ण होने के बाद घर भेजकर होम आइसोलेट भी किया गया है। इसके बाद भी अन्य जिलोंं में रोजाना बढ़ रहे संक्रमितों की संख्या को लेकर यहां जांच और निरीक्षण बढ़ाए गए हैं। अधिकारियों के साथ-साथ स्वास्थ्य अमले को तैनात किया गया है।

सेंटरों में ही हो रही पूरी व्यवस्था

पंचायतों में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटरों में ही अब रोके गए लोगों के लिए पूरी व्यवस्था बनाई जा रही है। भोजन सहित अन्य व्यवस्था सेंटरों में ही की जा रही है। बिजली पानी के साथ रोके गए लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण भी कराया जा रहा है। सर्दी, खांसी, बुखार, जुकाम जैसे लक्षण मिलने वाले लोगों का आरटीपीसीआर टेस्ट भी विभाग करा रहा है। सेेंटरों में लोगों की संख्या बढऩे के बाद अब अतिरिक्त व्यवस्था की जा रही है। पंचायत सचिवों के साथ-साथ अब संबंधित गांव में पदस्थ शिक्षकों और कर्मचारियों को तैनात कर क्वारेंटाइन नियमों का पूरी तरह पालन कराने निर्देश दिए गए हैं।

लक्षण पर ही जांच

खैरागढ़ बीएमओ डॉ. विवेक बिसेन ने कहा कि क्वारेंटाइन सेंटरों में रूके लोगों का रोजाना स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा रहा है। संक्रमण के लक्षण सर्दी, खांसी, बुखार, जुकाम जैसी समस्या सामने आने पर आरटीपीसीआर टेस्ट भी कराया जा रहा है। लोगों को सोशल डिस्टेंस का पूरी तरह पालन करने, मास्क का उपयोग हर समय करने, हाथ साबुन से धोने सहित अन्य जानकारी दी जा रही है। ग्रामीणों को भी नियमों का पालन कर क्वारेंटाइन किए गए लोगों के संपर्क में नहीं आने हिदायत दी जा रही है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned