पाइप लाइन खुदाई के चलते शहर में काट रहे दूरसंचार विभाग के केबल, निर्माण एंजेंसी की लापरवाही से विभाग परेशान ...

बिना जानकारी हो रही पाइप लाइन खुदाई में शहर में आधा दर्जन जगहों पर कट चुका केबल

By: Nitin Dongre

Updated: 27 Jul 2020, 08:19 AM IST

खैरागढ़. शहर में जारी जल आवर्धन योजना के तहत निर्माण एजेंसी द्वारा की जा रही लापरवाही अब दूरसंचार विभाग पर भारी पड़ रही है। पाइप लाइन विस्तार के तहत शहर के वार्डों में जारी पाइप लाइन की खोदाई के दौरान बीएसएनएल के ओएफ केबल आधा दर्जन से अधिक जगहों पर क्षतिग्रस्त हो गया है।

जल आवर्धन योजना के तहत पाइप लाइन की जारी खुदाई से शहर के मुख्य सड़के सहित गलियों और सड़कों में कई साल पहले डाली गई केबल उखड़ रहे हंै, जिसके कारण कारण दूरसंचार विभाग को अतिरिक्त मेहनत के साथ-साथ लाइन सुधार में कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। सबसे बड़ी दिक्कतें जल आवर्धन योजना का कार्य कर रही निर्माण कंपनी द्वारा इसकी जानकारी भी दूरसंचार विभाग को नहीं दी जा रही है, जिसके कारण केबल कटने ब्रेक होने जैसी सूचना विभाग को लेटलतीफ मिल रही है। निर्माण एजेंसी द्वारा इसकी जानकारी नहीं दिए जाने के कारण बीएसएनएल में केबल का काम देखने वो अधिकारी-कर्मचारी अब रोजाना पाइप लाइन खुदाई की जानकारी लेकर मौके पर दलबल सहित मौजूद हो रहे हैं। ताकि किसी प्रकार की दिक्कत सामने आए तो सुधार कार्य किया जा सके।

डिजीटल इंडिया प्लान को लग रहा ग्रहण

निजी कंपनियों से डिजीटल रूप में काफी पीछे चल रहे दूरसंचार विभाग भी शहर सहित पूरे ब्लाक में डिजीटल इंडिया के तहत नए आप्टिकल फाइबर केबल बिछाने में जुटा है। शहर में काफी हद तक इसका कार्य भी पूरा कर लिया गया है। विगत पांच छह सालों में शहर में बीएसएनएल के केबल कटने, सुधार नहीं होने महीनों तक लाइन बंद होने के कारण वैसे ही इसके उपभोक्ता कम हो गए है। व्यवस्था सुधारने के साथ सरकारी दूरसंचार सिस्टम को दुरूस्त करने शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में राष्ट्रीय आप्टिकल फाइबर मरम्मत कार्य जारी है, लेकिन पाइप लाइन के लिए जारी धुआंधार खुदाई इसमें भारी पड़ रही है। शहर में ही आधा दर्जन वार्डों में केबल कटने ब्रेक होने से कई जगहों की लाइन, इंटरनेट सेवा बदहाल हो रही है। लैंडलाइन भी बंद हो रहे है। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए शहर से होकर गुजरने वाली ओएफ लाइन भी इसमें गड़बड़ा गई है, जिसके कारण कई पंचायतों तक पहुंच चुकी सेवा महीने भर से बाधित हो गई है।

शहर में आधा दर्जन जगहों पर कट चुका है केबल

राष्ट्रीय आप्टिकल फाइबर मेंटनेंस का कार्य देख रहे संदीप सिंह ने बताया कि पाइपलाइन विस्तार के कारण शहर में केबल कटने के कारण सबसे ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। धनेली वार्ड में केबल कटने के कारण तीन बार दूरसंचार विभाग की लाइन ब्रेक हो गई, जिससे इलाके के कई पंचायतों में इंटरनेट सेवा पूरी तरह ठप हो गई थी। कड़ी मशक्कत के बाद इसमें सुधार हो पाया। शहर के पिपरिया वार्ड एक और दो में भी पाइपलाइन कार्य के कारण केबल ब्रेक होने के चलते दिलीपपुर, टेकापार कला, खजरी, पंचायतों की सेवा बंद हो गई थी, जिसमें सुधार के लिए तीन दिन मशक्कत करनी पड़ी। सिविल लाइन इलाके में दूरसंचार कार्यालय के आसपास ही केबल कटने के कारण गातापार जंगल, मुढ़ीपार भंडारपुर जैसे वनांचल क्षेत्रों में दूरसंचार सेवा बाधित रही। सिंह ने बताया कि पाइप लाइन विस्तार में निर्माण एजेंसी द्वारा बरती जा रही लापरवाही के कारण दूरसंचार विभाग सहित एनओएफएम टीम को लगातार परेशानी उठानी पड़ रही है।

नहीं ले रहे अनुमति, खोद कर छोड़ रहे

दूरसंचार विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पाइपलाइन खुदाई के पूर्व शहर में बीएसएनएल सेवा के लिए डाले गए केबल के कटने सहित खुदाई की जानकारी भी निर्माण एजेंसी द्वारा विधिवत तौर पर नहीं दी जा रही है, जिसके कारण अधिकारियों कर्मचारियों को रोजाना पाइप लाइन विस्तार कार्य की जानकारी लेकर मौके पर मौजूद रहना पड़ रहा है। दूसरी ओर निर्माण एजेंसी द्वारा कार्य की जानकारी भी अभी तक दूरसंचार विभाग को एक बार भी नहीं दी गई है। लगातार और आनन फानन में हो रही पाइप लाइन खुदाई के कारण शहर सहित ग्रामीण इलाकों में डिजीटल सेवा बाधित हो रही है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned