भगवान श्रीकृष्ण के उपदेशों में जीवन का सार: लोधी

भगवान श्रीकृष्ण के उपदेशों में जीवन का सार: लोधी

Nakul Ram Sinha | Publish: Sep, 04 2018 04:58:09 PM (IST) Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

जन्माष्टमी: रामधुनी प्रतियोगिता व जन्माष्टमी का हुआ आयोजन

राजनांदगांव / डोंगरगांव. जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के जिला महामंत्री विष्णु लोधी ने डोंगरगांव विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बनभेड़ी में समस्त ग्रामवासी व रामधुनी समिति के द्वारा आयोजित दो दिवसीय रामधुनी प्रतियोगिता एवं रामनाम सप्ताह व कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव को संबोधित करते हुए कहा कि भगवान कृष्ण हम सबके आराध्य हैं। पूरे देश व दुनिया में उनका जन्मोत्सव धूमधाम से लोग मनाते हैं। विष्णु लोधी ने कहा कि भगवान कृष्ण की बाल-लीला और महाभारत में अर्जुन को दिए गीता का उपदेश में संपूर्ण मानव जीवन का सार तत्व समाहित है।

लोगों ने दी एकदूसरे को बधाई
भगवान कृष्ण ने सहकार की भावना समाज में जागृत की। उन्होंने अतिवृष्टि से लोगों को बचाने के लिए उनको साथ लेकर गोवर्धन पर्वत को उठाकर यह संदेश दिया कि विपत्ति का एकजुट होकर सामना किया जा सकता है। असुरी ताकत के खिलाफ उन्होंने समाज को एकजुट किया जिला महामंत्री लोधी ने इस मौके पर ग्राम बनभेड़ी में हजारों की संख्या में उपस्थित लोगों को कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि मैं यहां कृष्ण जन्माष्टमी मनाने आप सबके बीच आया हूं।

कार्यक्रम में इनकी रही उपस्थिति
कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि विष्णु लोधी के द्वारा राधाकृष्ण के तैलचित्र पर माल्यार्पण एवं पूजा-अर्चना व फिता काट कर हुआ। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से जिला महामंत्री विष्णु लोधी, ग्राम के सरपंच, जिला मिडीया प्रभारी आशीष यादव, जोगी ब्लाक तुमड़ीबोड़ के अध्यक्ष किशोर श्रीवास, विधानसभा मिडीया प्रभारी आकाश लोढ़ा, उपसरपंच सतीश चंद्रवंशी, पुरूषोतम चंद्रवंशी, नहर लाल, बलीराम, मनोज चंद्रवंशी, रमा बाई, मान बाई, चितरेखा, पूणिमा बाई, वासुदेव साहू, भूषण साहू, हेमंत यादव, ओमप्रकाश साहू, बलराम साहू, दिनबंधु साहू, उभयलाल सचान, रामगुलाल साहू, राधेलाल कंवर सहित जय बजरंग मानस परिवार, शारदा सेवा भजन मंडली व विश्कर्मा समिति के सदस्यगण सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं पार्टी कार्यकर्ता, पदाधिकारी व बड़ी संख्या में ग्राम के नागरिकगण मौजूद रहे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned