बाघ की दहाड़ से ग्रामीणों में बढ़ी दहशत और अब तक वन अमला को नहीं मिला कोई सुराग ...

राजनांदगांव ब्लाक के आरला का मामला

By: Nitin Dongre

Published: 03 Jan 2020, 09:53 AM IST

राजनांदगांव. मनगटा के बाद सुरगी क्षेत्र के आरला गांव में कुछ ग्रामीणों ने बाघ की दहाड़ सुनाई देने की जानकारी पुलिस को दी। बाघ की दहाड़ सुनने की जानकारी के बाद आरला सहित आसपास के ग्रामीण दहशत में है। गुरुवार सुबह से ही वन विभाग की टीम आरला सहित आसपास के गांव में बाघ की तलाशी की, लेकिन कहीं से भी बाघ के निशान नही मिले। एतिहातन जिला प्रशासन द्वारा क्षेत्र के गांवों में अलर्ट जारी किया गया है। वहीं वन अमला व पुलिस के जवान क्षेत्र में सर्चिंग में लगे हैं।

मिल जानकारी के अनुसार बुधवार-गुरुवार दरमियानी रात को आरला के कुछ ग्रामीणों को बाघ की दहाड़ सुनाई दी। ग्रामीणों द्वारा मामले की जानकारी सुरगी चौकी में दी गई। सुरगी पुलिस द्वारा वन विभाग को इसकी जानकारी दी गई। इसके बाद वन विभाग व जिला प्रशासन की टीम आरला गांव सहित आसपास के गांवों में बाघ की तलाशी शुरु की। सुबह से दोपहर तक तलाशी के बाद भी बाघ के संबंध में किसी तरह की जानकारी सामने नहीं आई ।

एहतिहातन क्षेत्र के गांव में अलर्ट जारी

हालांकि बाघ के संबंध में जानकारी नहीं मिली, लेकिन सुरक्षा के मद्द्ेनजर जिला प्रशासन द्वारा आरला सहित आसपास के गांव में अलर्ट जारी किया गया है। वहीं वन अमला व पुलिस के जवान सर्चिंग में लगे हैं। इससे पहले मनगटा वन चेतना केन्द्र के पास बाघ दिखाई दिया था। दो दिन की तलाशी बाद भी बाघ वन अमले के हाथ नहीं आया। दो दिन पहले वन विभाग द्वारा बाघ को सोमनी से भर्रेगांव होते बालोद जिला के सीमा में जाने की जानकारी दी गई थी। बुधवार रात को आरला में बाघ की दहाड़ सुनाई देने की जानकारी से वन विभाग फिर से तलाशी में जुटी है।

वन विभाग क्षेत्र में सर्चिंग कर बाघ की तलाश में जुटी

राजनांदगांव डीएफओ बीपी सिंग ने कहा कि आरला के ग्रामीण पुलिस को बाघ की दहाड़ सुनाई देने की जानकारीू दिए ते। जानकारी के बाद वन अमला द्वारा क्षेत्र में बाघ की तलाशी ली गई। कहीं पर से बाघ के संबंध में कोई सुराग नहीं मिला है। वन विभाग क्षेत्र में सर्चिंग कर बाघ की तलाश में जुटी है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned