बेमौसम बारिश से हुए नुकसान का अब तक सर्वे नहीं आक्रोशित किसान पहुंचे कलक्टोरेट ...

किसानों ने जिला प्रशासन को सौंपा ज्ञापन, भाजपाई किसानों को लेकर पहुंचे

By: Nitin Dongre

Published: 18 Feb 2020, 10:23 AM IST

राजनांदगांव. जिलेभर में पिछले दिनों हुई बेमौसम बारिश से रबी की फसल पूरी तरह बर्बाद हो चुकी है। इसके बाद भी जिला प्रशासन व कृषि विभाग द्वारा इस नुकसान का सर्वे करा किसानों को बीमा और मुआवजा राशि दिलाने में लापरवाही बरती जा रही है। जिला प्रशासन के सर्वे में लेट-लतीफी के कारण किसान बीमा क्लेम की राशि से वंचित हो जाएंगे। इधर जिला प्रशासन के अफसरों ने कहा कि उनके द्वारा पटवारियों को सर्वे कर रिपोर्ट देने के लिए निर्देशित किया जा चुका है।

सोमवार को जिले के विभिन्न ब्लाक से पहुंचे बड़ी संख्या में किसान भाजपा के जिला किसान मोर्चा के नेतृत्व में पूर्व महापौर मधुसूदन यादव के साथ जिला कार्यालय पहुंचे। वे अपने साथ बारिश और खराब मौसम से बर्बाद हुए चना, मसूर, अरहर सहित अन्य फसल को लेकर पहुंचे थे। किसानों ने बर्बाद हुए फसल को अफसरों को दिखाते हुए पूछा कि अब तक उनके गांवों में सर्वे क्यों शुरू नहीं हो पाया है। इस सवाल का कृषि विभाग के अफसरों के पास कोई जवाब नहीं था। विभिन्न गांव से पहुंचे किसानों ने ज्ञापन सौंपते हुए जल्द सर्वे करा बीमा और क्षतिपूर्ति राशि दिलाने की मांग रखी है।

सिंगपुर के सैकड़ों किसानों ने सोमवार को कलक्ट्रेट पहुंचकर क्षतिपूर्ति के लिए प्रशासन से लगाई गुहार

इधर ठेलकाडीह में सोमवार को राजनांदगांव ब्लॉक के सिंगपुर के किसानों ने सोमवार को कलक्ट्रेट पहुंचकर प्रशासन को बेमौसम बारिश से हुई नुकसान से अवगत कराया। सिंगपुर के किसान सुकाल मंडावी, लोकेश वर्मा, जितेंद्र वर्मा, कन्हैयालाल, हेमराज, प्यारेलाल पटेल, सुंदरलाल, देवनाथ वर्मा सहित अनेक किसानों ने बताया कि पिछले दिनों हुई बेमौसम बारिश ने चना, गेहूं, लाख-लाखड़ी सहित अन्य रबी फसलों को भारी नुकसान हुआ है। तिलहन-दलहन की फसलें चौपट हो गई है। ऐसे में अब किसानों को पूंजी निकालने की चिंता सताने लगी है, ज्यादातर किसान सोसायटी से कर्ज लेकर फसल की बुआई की है, तो कई किसान साहूकारों से कर्ज लेकर रबी फसल की तैयारी की है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned