शहर में नहीं लगेगा सब्जी पसरा, ठेले में घूमकर बेचना होगा, सिर्फ दोपहर 12 बजे तक मिलेगी छूट ...

कलेक्टर ने कोरोना संक्रमण पर विभिन्न वर्गों के प्रतिनिधियों से की विशेष चर्चा

By: Nitin Dongre

Updated: 22 Jun 2020, 08:25 AM IST

राजनांदगांव. शहर में कोरोना के बड़े विस्फोट के बाद प्रशासन ने सख्ती शुरू कर दी है। सोमवार से शहर में बाजार का समय सुबह 7 बजे से दोपहर 12 बजे तक ही रहेगा। कोरोना को लेकर जारी प्रोटोकाल का पालन नहीं करने वालों पर अब सीधे एफआइआर कराई जाएगी। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने आज जिला पंचायत सभाकक्ष में जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण के प्रभाव की रोकथाम के लिए तथा आवश्यक निर्णय लेने जनप्रतिनिधियों, चेंबर ऑफ कामर्स, मंडी संघ के सदस्यों एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों से चर्चा की।

कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने कहा कि शहर में कोरोना का संक्रमण फैला है। इसे रोकने के लिए विशेष निर्णय लेने की आवश्यकता है। इसमें सभी की भागीदारी जरूरी है। इस संबंध में सभी ने अपने विचार व्यक्त किए और कहा कि जिला प्रशासन की ओर से दिए गए आदेशों का कड़ाई से पालन किया जाएगा। सभी ने इस पर अपनी सहमति जताई। इस अवसर पर महापौर हेमा देशमुख, नगर निगम के सभापति हरिनारायण पप्पू धकेता, पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शुक्ला, एडीएम ओंकार यदु, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी तनूजा सलाम, आयुक्त नगर निगम चन्द्रकांत कौशिक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम राजनांदगांव मुकेश रावटे सहित अन्य जनप्रतिनिधि, चेम्बर ऑफ कामर्स व मंडी संघ के सदस्य, जिला एवं पुलिस विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

प्रोटोकाल का पालन किया जाना जरूरी

कलेक्टर वर्मा ने कहा कि नगर निगम क्षेत्र में कोरोना पाजिटिव मरीजों की संख्या बढऩे पर राजनांदगांव नगर निगम क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि शहर की सभी दुकाने बंद रहेगी। सिर्फ आवश्यक वस्तुओं की दुकाने सुबह 7 बजे से दोपहर 12 बजे तक ही खुली रहेंगी। मेडिकल दुकाने 24 घंटे खुली रहेगी। सब्जी और फल के लिए पसरा नहीं लगेगा। इसकी बिक्री सिर्फ ठेले के माध्यम से की जा सकती है। वर्मा ने कहा कि बाहर से सामान लाने वाली गाडिय़़ों की लोडिंग-अनलोडिंग रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक ही किया जा सकता है। इसमें निर्धारित प्रोटोकाल का पालन किया जाना आवश्यक है।

शादी के लिए निगम क्षेत्र से बाहर का स्थान करें चयन

वर्मा ने कहा कि वैवाहिक कार्यक्रमों के लिए एसडीएम से अनुमति लेना अनिवार्य होगा। इन कार्यक्रमों में अधिकतम 15 लोगों को अनुमति होगी। शादी के लिए निगम क्षेत्र के बाहर के स्थानों का चयन कर सकते हैं। जिन क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, वहां के लोगों को कार्य करने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि पूर्व आदेश के अनुसार ही सभी नियमों का कड़ाई से पालन किया जाएगा। इन निणर्यों पर सभी ने सहमति जताई।

जानकारी एकत्रित की जा रही है

कलेक्टर वर्मा ने कहा कि पाजिटिव मरीजों के संपर्क में आने वाले लोगों का सैंपल लेकर क्वारंटाइन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि संक्रमितों का मेडिकल कालेज में इलाज हो रहा है। घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने सभी लोगों को प्रोटोकाल का पालन करने सख्त निर्देश दिए है। उन्होंने बताया कि संक्रमित क्षेत्र में सर्विलेंस टीम द्वारा जानकारी एकत्रित की जा रही है।

प्रवासियों की जानकारी जरूर दें

पुलिस अधीक्षक जितेंद्र शुक्ला ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए स्वयं में अनुशासन लाने की जरूरत है। उन्होंन कहा कि संक्रमण की स्थिति में प्रोटोकाल का पालन नहीं करने वालों पर एफआईआर दर्ज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों से आने वाले लोगों की जानकारी अवश्य दें। महापौर हेमा देशमुख ने कहा कि शहर में आपदा की स्थिति आ गई है। सभी को सहयोग करने की आवश्यकता है। सभी प्रोटोकाल का पालन करें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी ने कहा कि संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाना आवश्यक है। समय-समय पर साबुन से लगातार हाथ धोते रहें। अभी जो पाजिटीव केस आ रहे हैं। इसकी चेन को तोडऩा आवश्यक है। इसके लिए निर्धारित प्रोटोकाल का पालन करना जरूरी है। चेंबर ऑफ कामर्स, थोक मंडी संघ और अन्य लोगों ने कहा कि लॉकडाउन का कड़ाई से पालन होना चाहिए। प्रशासन द्वारा दिए गए आदेशों का पालन किया जाएगा।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned