तीन दोस्त हथियार लेकर किसी को धमकाने जा रहे थे, पहुंच गए अस्पताल, पढ़ें खबर

Satya Narayan Shukla

Publish: Sep, 17 2017 10:30:03 (IST)

Khairagarh, Rajnandgaon, Chhattisgarh, India
तीन दोस्त हथियार लेकर किसी को धमकाने जा रहे थे, पहुंच गए अस्पताल, पढ़ें खबर

तीन दोस्त शराब की नशे में चूर घातक हथियार लेकर किसी को नुकसान पहुंचा पाते इसके पहले ही दुर्घटना के शिकार हो गए और पहुंच अस्पताल।

राजनांदगांव/खैरागढ़. कभी-कभी ऊपर वाला जो करता है वह सही करता है। ऐसा ही वाकया तीन दोस्तों के साथ हुआ। तीन दोस्त शराब की नशे में चूर घातक हथियार लेकर किसी को धमकी-चमकी लगाने जा रहे थे। तीनों किसी को नुकसान पहुंचा पाते इसके पहले ही दुर्घटना के शिकार हो गए और पहुंच अस्पताल। घायलों के अस्पताल पहुंचने पर उपचार के पहले कपड़ों को निकाला गया तो डॉक्टरों के होश उड गए। तीनों के पास से छूरा, कटार और तलवारनुमा घातक हथियार मिले। हथियार मिलने की सूचना से सड़क दुर्घटना मामले के साथ प्रतिबंधित अस्त्र-शस्त्र रखने में बदल गया। फिलहाल मामले मामले की जांच कर रही है।

गंडई से वापस लौट रहे थे तीन युवक
गंडई से वापस लौट रहे तीन युवक शहर के पिपरिया में अनियंत्रित रफ्तार के चलते दुर्घटना ग्रस्त हो गए। घटना रविवार सुबह ८ बजे की बताई गई है। युवकों को घायल हालत में स्थानीय सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिसमें से एक की हालत गंभीर होने पर आनन-फानन में जिला चिकित्सालय रेफर किया गया। दो का उपचार जारी है।

ब्रेकर में तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित हो गई
राजनांदगांव के भरत चौहान, प्रमोद साहू, वासूदेव साहू गंडई की ओर से बाइक सीजी ०८ एए ०३६६ से राजनांदगांव की ओर लौट रहे थे। पिपरिया पुल के पास ही बने ब्रेकर में तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित हो गई, जिससे बाइक सड़क किनारे लगे साइन बोर्ड और माइल स्टोन से टकरा गई। तीनों युवक नशे में थे, जिसके कारण तेज रफ्तार बाइक को संभाल नहीं पाए। स्थानीय नागरिकों ने बताया कि घटना के बाद संजीवनी १०८ एम्बुलेंस बुलाकर घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां प्राथमिक इलाज के बाद भरत चौहान की हालत गंभीर होने के चलते उसे डॉक्टरों ने रेफर कर दिया। उपचार चल रहा है।

 

धारदार हथियार मिलने से भी वार्डवासी सकते में
दुर्घटना में घायल युवकों के पास से काफी धारदार हथियार मिलने से भी वार्डवासी सकते में आ गए। घायल युवकों के पास छुरा, कटार और तलवार जैसे औजार भी मिले। अस्पताल पहुंचने के दौरान इसकी सूचना पुलिस को भी दी गई। अस्पताल पहुंची पुलिस ने औजार जब्त किए और मामले की जांच शुरू की। वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. पीएस परिहार ने बाकी दो युवकों को खतरे से बाहर बताया है।

1
Ad Block is Banned