रेल टर्मिनल धर्मनगरी में ही बनाने की मांग को लेेकर एकजुट हुए युवा

नगर में फैल रहा आक्रोश

By: Nakul Sinha

Published: 07 Jun 2018, 03:37 PM IST

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. डोंगरगढ के स्थान पर रायपुर में रेल टर्मिनल बनाये जाने व समाचार पत्रों में छपे समाचार के बाद कल मंगलवार तथा आज बुधवार को युवा नेताओं के बैठकों का दौर चलते रहा।

बैठको का दौर शुरू
कल देर रात हुई बैठक में नगर के ही नपाध्यक्ष तरूण हथेल के साथ ही अन्य युवा सैकड़ों की संख्या में उपस्थित होकर विरोध में रणनीति बननी थी जहां आज दोपहर नपाध्यक्ष तरूण हथेल, जिलाध्यक्ष नवीन अग्रवाल सहित अन्य युवा नेता पुराने रेस्टहाउस में पहुंचकर रेल टर्मिनल को डोंगरगढ़ में ही बनाये जाने पर एकजुट हुए तथा नहीं बनाये पर नगरबंद के साथ ही रेल रोको आंदोलन की रणनीति बनाई गई।

सांसद प्रतिनिधि मामले से अनभिज्ञ
युवाओं में आक्रोश है कि भुलवश व्हाटसअप या अखबारों में गलत हो तो जिले के सांसद या पार्टी के बड़े नेता खंडन क्यों नहीं करते। युवाओ ने रेस्ट हाउस के ही करंज पेड़ की छाया में सांसद प्रतिनिधि अमित जैन को अखबारों में छपे समाचारों से अवगत कराया। जहां सांसद प्रतिनिधि ने बताया कि 27 करोड रूपये डोंगरगढ़ रेल्वे प्लेटफार्म को सर्वसुविधायुक्त बनाये जाने के लिए स्वीकृत हुए है किंतु टर्मिनल के बारे में मुझे नहीं मालूम है। अमित जैन ने कहा कि मैने संासद को रात में ही फोन लगाया किंतु चर्चा नहीं हो पायी। चर्चा होते ही मामले का खुलासा हो जायेगा।

बैठक में ये हुए शामिल
बैठक में नपाध्यक्ष ने कहा कि मोबाईल में फैले समाचारों की सत्यता को बताईये कही दाल में काला तो नहीं है जबकि जंगल सफारी धर्मनगरी में ही बनना था जिसे मनगटा में बनाया गया है। बैठक में अनिल पांडे, इंदरपाल राजा, श्याम तिवारी, बाप्पी सांन्याल, अनिल शर्मा, अनिल यादव, सुरेंद्र महाराणा, संनील सोनी, वसीम खान, खूबचंद सहित नगर के युवा बड़ी संख्या में उपस्थित होकर रेल टर्मिनल धर्मनगरी डोंगरगढ़ में बने ऐसी योजना बनाने में जुटे हुए है।

Nakul Sinha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned