ग्रामीणों ने अपने से ही कोरोना संक्रमण रोकने कर दी नाकेबंदी ...

कोरोना से जंग गांव-गांव में लॉकडाउन

By: Nitin Dongre

Published: 27 Mar 2020, 03:48 PM IST

अंबागढ़ चौकी. विकासखंड के मुख्य मार्ग व चौकी शहर में पुलिस के जवानों ने कोरोना के खिलाफ जंग छेड़ रखा है तो कई गांवों में जागरूक युवाओं ने कोरोना महामारी से खुद को और अपने गांव वालों को बचाने गांव-गांव नाकेबंदी अभियान के साथ बाहर राज्यों से काम कर लौटे लोगों को अस्पताल में मेडिकल चेकअप और होम आइसोलेशन की सलाह दे रहे हैं।

दरअसल गांवों से बड़ी संख्या में लोग केरल, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, पंजाब, गुजरात जैसे राज्यों में मजदूरी करने जाते हैं, जहां बड़ी संख्या में संक्रमण फैल रहा है। लोग महामारी के अलर्ट से अपने अपने गांव जैसे तैसे वापस आ रहे हैं। ऐसे में यहां रह रहे गांव वालों को चिंता सताने लगी है कि कहीं कोई व्यक्ति बाहर से वायरस संक्रमण लेकर मत पहुंचे जिसके चलते ग्रामीणों ने खुद ही गांव के मुख्य प्रवेश सड़कों पर लकडिय़ों से रास्ता बंद कर दिया है। विशेष स्थिति में ही मार्ग खोला जाता है इसके जरिए हर आने वाले लोगों पर नजर रखा जा रहा है।

संपूर्ण लॉकडाउन में कारगर साबित होगा

ऐसे ही ग्राम देवरसुर के फनीश कुमार मंडावी, दिनेश मेश्राम, जितेंद्र सलामे, दादु मंडावी और उनकी टीम ने बताया के वो बारी बारी से आने जाने वालों पर नजर रखते हैं और बेवजह गांव में किसी को घुसने देते हैं ना किसी को निकलने देते हैं। ब्लाक के देवरसुर, तारमटोला, बोदाल, नेतामटोला, मुगेशीटोला व चिल्हाटी क्षेत्र के कई अंदरूनी गांवों में ग्रामीणों ने कोरोना के खिलाफ नाकेबंदी कर रखा है जो संपूर्ण लॉकडाउन में कारगर साबित हो रहा है।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned