scriptWhat kind of quality is this, the roads of lakhs built recently are ge | ये कैसी गुणवत्ता, हाल ही में बनी लाखों की सड़कें हो रही जर्जर, बारिश में होगी दिक्कत | Patrika News

ये कैसी गुणवत्ता, हाल ही में बनी लाखों की सड़कें हो रही जर्जर, बारिश में होगी दिक्कत

शहर के कई प्रमुख कालोनियों में नई सड़कें इसलिए जर्जर हो गई हैं,क्योंकि इनके निर्माण में शासकीय नियमों व गुणवत्ता का पालन नहीं किया गया है। रहवासियों व पार्षदों ने शिकायत भी की लेकिन उसे अनसुना कर दिया गया। शहर के विवेकनंद नगर , नीलगिरी पार्क , गायत्री कालोनी और कुंजबिहार कालोनी में नवनिर्मित सड़कों का बुरा हाल है।

राजनंदगांव

Published: June 19, 2022 08:11:38 pm

शहर में पूर्ण हो चुके व चल रहे निर्माण कार्यों मेंं भारी अनिमितता की शिकायत सामने आ रही है। ठेकेदारों द्वारा कार्यों को मापदंड़ के विपरीत व गुणवत्ताहीन किया जा रहा है है। इसका उदाहरण शहर के कुछ क्षेत्रों में हाल ही में बने सड़कों के देखने से लग रहा है। स्तरहीन काम होने से सड़कों का बुरा हाल हो रहा है।
शहर के विवेकनंद नगर , नीलगिरी पार्क , गायत्री कालोनी एवं कुंजबिहार कालोनी में कुछ समय पहले 20 लाख से डामरीकृत सड़कों का निर्माण हुआ था। गुणवत्ताहीन काम होने की वजह से सड़के बनने के पखवाड़ेभर बाद उखडऩा शुरु हो गया था। वर्तमान मेंं सड़के जर्जर स्थिति में पहुंच गई है और क्षेत्र के लोगों को आवाजाही करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
ये कैसी गुणवत्ता, हाल ही में बनी लाखों की सड़कें हो रही जर्जर, बारिश में होगी दिक्कत
स्तरहीन काम होने से सड़कों का बुरा हाल
नीलगिरी पार्क व गायत्री कालोनी की सड़क में हो रहे गड्ढ़े
निगम प्रशासन द्वारा कुछ समय पहले नीलगिरी पार्क व गायत्री कालोनी में डामरीकृत सड़कों का निर्माण किया गया था। ठेकेदार द्वारा कार्यों में जमकर मनमानी करते स्तरहीन काम किया गया है। इसका नतीजा यह है कि सड़के बदहाल हो रही है। इस बारिश के बाद सड़कें चलने लायक नहीं रहेगी। क्षेत्र के रवि तिवारी व कमलेश सिरमौर ने बताया कि निर्माण के समय घटिया काम की शिकायत निगम के इंजीनियरों से की गई थी, लेकिन इस ओर गंभीरता नहीं दिखाया गया। यानि ठेेकेदार की मनमानी पर निगम के अफसर मेहरबान रहे। इसकी वजह से सड़के जर्जर हो रही है।

विवेकानंद नगर में दो माह पहले मरम्मत, उखड़ रही
शहर के विवेकानंद नगर में मार्च माह में सड़क का मरम्मत कार्य कराया गया था। डामर की कमी के कारण सड़क फिर से उखड़े लगी है। वार्डवासियों ने बताया कि सड़क का निर्माण कोरोना के समय हुआ था। स्तरहीन काम होने की वजह से सड़क डेढ़ साल में ही जर्जर हो गई थी। शिकायत पर मार्च माह में मरम्मत कार्य कराया गया। इसमें भी मापदंड़ के विपरीत काम होने से सड़क फिर से उखडऩे लगी है। घटिया काम को लेकर क्षेत्र के रहवासियों में आक्रोश देखा जा रहा है।

पार्षद ने स्वंय की थी निगम प्रशासन से शिकायत, नहीं सुनी गई
सड़कों के निर्माण में ठेकेदार की मनमानी व स्तरहीन काम की शिकायत क्षेत्र के पार्षद सुनीता फडऩवीस द्वारा निगम आयुक्त व महापौर से की गई थी। इस दौरान पार्षद ने ठेकेदार पर कार्रवाई करने के की मांग भी की थी, लेकिन निगम प्रशासन ने शिकायत पर गंभीरता नहीं दिखाया। निगम की अनदेखी की वजह से लाखों की लागत से बनी सड़कों की स्थिति बदहाल हो रही है। बताया जा रहा है कि पार्षद की शिकायत बाद भी निगम प्रशासन द्वारा ठेकेदार को काम की पूरी राशि दे दी गई है। इस पर पार्षद ने आपत्ति भी जताई है।

विवेकनंद नगर, नीलगिरी पार्क , गायत्री कालोनी और कुंजबिहार कालोनी में कुछ समय पहले बनी सड़के स्तरहीन काम होने की वजह से खराब हो रही है। इसकी शिकायत निगम प्रशासन से करने के बाद भी जांच व कार्रवाई नहीं की गई।
सुनीता फडनवीस, पार्षद आरके नगर
वर्सन
सड़कों के खराब होने की जानकारी मिली है। ठेकेदार को नोटिस जारी कर मरम्मत कार्य कराने निर्देशित किया जाएगा।
यूके रामटेके, ईई नगर निगम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाबPM Modi in Germany for G7 Summit LIVE Updates: 'गरीब देश पर्यावरण को अधिक नुकसान पहुंचाते हैं, ये गलत धारणा है' : G-7 शिखर सम्मेलन में बोले पीएम मोदीयूक्रेन में भीड़भाड़ वाले शॉपिंग सेंटर पर रूस ने दागी मिसाइल, 2 की मौत, 20 घायल"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिवसैनिकों से बोले आदित्य ठाकरे- हम दिल्ली में भी सत्ता में आएंगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.