राजनांदगांव: मिल मालिक ने नहीं दिया सुरक्षा संसाधन, तीस फीट की ऊंचाई से गिरकर मजदूर की मौत

मामले में लालबाग पुलिस ने ठेकेदार गजेंद्र साहू व मिल मालिक मयंक अग्रवाल के खिलाफ धारा 304 ए के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया गया है।

By: Dakshi Sahu

Published: 14 Jan 2021, 05:55 PM IST

राजनांदगांव. राजनांदगांव शहर के लालबाग थाना क्षेत्र के रेवाडीह स्थित आर आरके फूड राइस मिल में टीन शेड लगाने का काम करते वक्त मजदूर 45 वर्षीय जसवंत कुमार साहू 30 फीट की ऊंचाई से गिरा गया। इलाज के दौरान अस्पताल में उसकी मौत हो गया। मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि मिल में ठेकेदार व मालिक द्वारा श्रमिकों को सुरक्षा संसाधन उपलब्ध नहीं कराया गया था। लापरवाही के कारण ही श्रमिक की जान गई है। घटना 12 जनवरी की है। मामले में लालबाग पुलिस ने ठेकेदार गजेंद्र साहू व मिल मालिक मयंक अग्रवाल के खिलाफ धारा 304 ए के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया गया है। ठेकेदार की गिरफ्तारी भी बताई जा रही है।

बरती गई लापरवाही
रेवाडीह स्थित आरके फूड कंपनी में 12 जनवरी की शाम बजरंगपुर नवागांव निवासी जसवंत साहू काम कर रहा था। अचानक वह 30 फीट ऊंचाई से नीचे गिर गया। इस हादसे में जसवंत को गंभीर चोट आई जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। बुधवार सुबह जब परिजन शव लेने मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे तो उन्होंने जमकर हंगामा किया। मौके पर सामाजिक संगठन के मदन साहू और पूर्व जिला पंचायत सदस्य क्रांति बंजारे ने मीडिया के सामने बयान दिया कि फैक्ट्री का मालिक अग्रवाल है। मालिक व ठेकेदार की ओर से श्रमिकों को सुरक्षा सामाग्री व उपकरण उपलब्ध कराने में लापरवाही बरती गई, इसलिए श्रमिक की जान चली गई।

एफआईआर करने की बात पर अड़े थे परिजन
जनप्रतिनिधियों ने आरोप लगाया कि इस मामले में पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है। मृतक के बेटे अमित कुमार साहू ने बताया कि घटना शाम चार बजे की थी, लेकिन उन्हें दो घंटे बाद शाम 6 बजे सूचना दी गई। वे अस्पताल पहुंचे तो उनके पिता जी की हालात नाजुक थी। बाद में उनकी मृत्यु हो गई। बेटे ने कहा कि पुलिस जब तक मामले में कार्रवाई नहीं करती वे शव को नहीं ले जाएंगे। हालांकि देर शाम पुलिस ने मामले में ठेेकेदार व मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। इस संबंध में लालबाग थाना प्रभारी से चर्चा की गई तो उन्होंने कहा कि मामले में मर्ग कायम कर लिया गया है, पुलिस मामले की विवेचना में जुट गई है। ठेकेदार से भी पूछताछ की जा रही है। मीडिया के सामने ठेकेदार गजेंद्र साहू निवासी ग्राम देवरी रीवागहन ने कहा कि वह दिवाली के पहले से फैक्ट्री में काम करवा रहा है। उसके पास किसी भी तरह का लाइसेंस नहीं है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned