आकाशीय बिजली गिरने से राजनांदगांव में युवक और 10 गायों की मौत, बेमेतरा में खेत पर काम कर रही 8 महिलाएं बेेहोश

राजनांदगांव के मोहारा मेला मैदान में शिवनाथ नदी में मछली पकडऩे गए सिंगदई निवासी 30 वर्षीय युवक की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई।

By: Dakshi Sahu

Published: 27 Sep 2021, 01:51 PM IST

राजनांदगांव. राजनांदगांव के मोहारा मेला मैदान में शिवनाथ नदी में मछली पकडऩे गए सिंगदई निवासी 30 वर्षीय युवक की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई। घटना रविवार अपराह्न 3.30 बजे की बताई जा रही है। मिली जानकारी अनुसार दीनदयाल पिता रामजी निषाद मोहारा मेला स्थल के पास मंदिर के पीछे नदी में मछली पकडऩे गया था। इसी बीच मौसम खराब हुआ और जोरदार बारिश हुई। बारिश के दौरान बिजली कड़की और आकाशीय बिजली गिरी। युवक दीनदयाल उसकी चपेट में आया और घटना स्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

दस गायों की मौत
इधर कन्हारपुरी क्षेत्र के ग्राम तोरनकट्टा में आकाशीय बिजली गिरने से 10 गायों की मौत होने की खबर मिल रही है। मौसम विभाग से मिली जानकारी अनुसार बस्तर क्षेत्र में गुलाब नामक तूफान का असर है। इसी के असर के कारण पूरे राज्य में रविवार को अचानक मौसम में तब्दीली हुई और तेज गर्जना के साथ बारिश हुई। इस दौरान कुछ जगहों पर आकाशीय बिजली भी गिरी है।

आकाशीय बिजली गिरने से राजनांदगांव में युवक और 10 गायों की मौत, बेमेतरा में खेत पर काम कर रही 8 महिलाएं बेेहोश

गाज गिरने से खेत में काम कर रहे 8 महिलाओं समेत 9 मजदूर हुए बेेहोश

बेमेतरा जिला मुख्यालय से महज 8 किलोमीटर की दूर ग्राम पंचायत मोहलाई में बारिश के दौरान तेज गर्जना से बचने के लिए पंप हाउस में रूके थे कि मौके से थोड़ी ही दूर पर खेत में लगे ट्रांसफार्मर पर आकाशीय बिजली गिरने के दौरान सभी मजदूर बेहोश हो गए। वही थोड़ी देर बाद एक मजदूर संतराम को होश आया। जिसने होश आने के बाद सभी साथियों को अचेत देखकर फिर गंाव वालों को सूचना देकर मदद मांगी जिसके बाद सभी को उपचार के लिए संजीवनी वाहन से जिला अस्पताल लाया गया । जिनका उपचार किया गया।

मजदूरों में संतराम के आलावा 8 महिलाएं भी चपेट में आए थे। जिनमें से संतराम व अन्य दो को प्राथमिक उपचार के बाद रिलीव किया गया था। शेष 6 महिला मजदूर जिन्हें उपचार के लिए भर्ती किया गया है। उनमें शांति बाई गायकवाड, मोगराबाई बंजारे, शिवकुमारी, गेरूबाई व केशरी बाई को अचेत हालत में जिला अस्पताल लाया गया था। संजीवनी टीम के सत्या वर्मा ने बताया कि लोगों की मदद से मरीजों को जिला अस्पताल लाया गया। घटना शनिवार के होना बताया जा रहा है।

संतराम ने दिखाई तत्परता
मजदूर संतराम ने होश आने के बाद तत्काल बिजली गिरने की घटना की जानकारी अन्य ग्रामीणों को दी। तभी गाव के ओर से ग्रामीण भयभीत होते हुए भी आनन-फानन में सभी घायलों को इलाज के लिए 108 एम्बुलेंस के मदद से जिला अस्पताल लाया गया। जहां उपस्थित डॉक्टरों ने सभी घायलों का उपचार किया गया। संजीवनी जिला प्रभारी रूपेन्द्र मिश्रा ने बताया कि टीम को मिली सूचना के बाद तत्काल रवाना किया गया था, जिन्हें समय पर उपचार के लिए लाया गया।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned