जिला पंचायत सदस्य विप्लव साहू ने चुनाव के दौरान वायरल स्क्रीनशाट को बताया तथ्यहीन ...

फर्जी शिकायत कर छवि खराब करने का आरोप, जांच की मांग

By: Nitin Dongre

Published: 18 Feb 2020, 11:22 AM IST

राजनांदगांव. जिला पंचायत के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष चुनाव के दौरान निर्दलीय के भाजपा के साथ देने के बाद शनिवार को निर्दलीय सदस्य के कथित वायरल स्क्रीनशाट का बवाल फिर बढ़ गया है। व्हाट्स-अप पर निर्दलीय सदस्य विप्लव साहू के किसी से बातचीत के वायरल स्क्रीनशाट के अनुसार विप्लव ने खुद को बिकने के लिए तैयार होने की बात सामने आई थी। इस मामले में भाजपा को सहयोग करने वाले निर्दलीय सदस्य विप्लव साहू ने रविवार को एसपी को ज्ञापन सौंपा और अपनी छवि खराब करने का आरोप लगाकर मामले की जांच की मांग की है।

शनिवार को वायरल स्क्रीनशाट के अनुसार निर्दलीय सदस्य विप्लव साहू ने वाट्सअप में भेजे एक मैसेज में लिखा कि उसने भाजपा से लाखों लेकर समर्थन दिया है, लेकिन वह खुश नहीं है। इस तरह का सोशल मीडिया में मैसेज वायरल हुआ था। इस मामले में पूर्व जिला पंचायत सदस्य शाहिद खान ने विप्लव साहू के खिलाफ एसपी से शिकायत कर जांच की मांग की थी।

जांच के बाद ही होगा मामले का खुलासा

इस मामले में जिला पंचायत सद्स्य विप्लव साहू ने रविवार को एसपी को ज्ञापन सौंपा और अपनी छवि खराब करने की बात कह जांच की मांग की है। मिली जानकारी के अनुसार साहू समाज में भी इस संबंध में बैठक हुई और विप्लव साहू का समर्थन किया गया। बताया जा रहा है कि विप्लव के खिलाफ हुई शिकायत से क्षेत्र में आक्रोश है और क्षेत्र के लोग भी विप्लव के समर्थन में सामने आए हैं। फिलहाल इस मामले में दोनों तरफ से शिकायत हुई है। जांच के बाद ही मामले का खुलासा होने की संभावना है।

आगे की कार्रवाई की जाएगी

राजनांदगांव एसपी बीएस धु्रव ने कहा कि जिला पंचायत सदस्य विप्लव द्वारा ज्ञापन सौंपने आने की जानकारी मिली थी। मैं मंत्री जी के कार्यक्रम था। मुझसे मुलाकात नहीं हुई। शिकायत की कापी मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Nitin Dongre Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned