20 हजार लीटर मिलावटी तेल मय टेंकर जब्त

केलवाड़ा पुलिस ने 42 ड्रम व उपकरण भी मौके से किए जब्त

 

 

By: jitendra paliwal

Published: 11 Sep 2021, 10:14 PM IST

कुंभलगढ़. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवलाल बैरवा एवं पुलिस उप अधीक्षक नरपत सिंह के निर्देशन में शुक्रवार देर रात केलवाड़ा थानाधिकारी शैतानसिंह नाथावत ने मुखबीर की सूचना पर ओडा चौकी सर्कल में गांव माचड़ा स्थित बोलियों की भागल में नकली तेल से भरा टेंकर एवं ड्रम जब्त किए।
थानाधिकारी नाथावत ने बताया कि सोहनलाल खटीक के बाड़े में एक गुजरात पासिंग टेंंकर जिसमें नकली मिलावटी तरल पदार्थ भरा था। बताया कि इसे अवैध रूप से बिना लाईसेंस के ड्रमों में खाली किया जा रहा था। मौके पर मौजूद तीन व्यक्तियों के द्वारा यह कार्य किया जा रहा है। सूचना पर थानाधिकारी मय जाब्ता व दोनों चौकी प्रभारी गजपुर व ओड़ा के को साथ लेकर रवाना हुए। मौके पर पहुंचे तो थोड़ा अंधेरा होने की वजह से अवैध रूप से ड्रम भर रहे लोगों को जाब्ते की भनक लग गई। इस पर तीनों आरोपी पुलिस के नजदीक आने पर बाड़े के दूसरी तरफ कूद कर भागने लगे। जाब्ते में से बीट कॉन्स्टेबल मुकेश कुमार ने तीनों व्यक्तियों की पहचान की तो वे माचड़ा थाना केलवाड़ा निवासी सोहनलाल पुत्र प्रतापराम खटीक, ललित पुत्र ईश्वरलाल खटीक एवं किशनलाल पुत्र मगनलाल खटीक थे। तीनों व्यक्ति अंधेरे का फयदा उठाकर भाग गए। पुलिस ने मौके पर मिले 42 ड्रमों की जांच की तो करीब 34 ड्रम में अवैध रूप से रासायनिक तरल पदार्थ भरा हुआ पाय गया। साथ ही तरल पदार्थ भरने के उपकरण मौके पर मिले। वहीं, 8 ड्रम खाली मिले। मौके पर एक गुजरात पासिंग टेंकर भी मिला। उसे चैक किया तो 2 चैम्बर पूर्णतया भरे हुए व 2 अन्य चैम्बर थोड़े-थोड़े भरे हुए थे। इस पर मौके से ही उच्चाधिकारीयों को जानकारी दी। इस पर वृत्ताधिकारी व प्रर्वतन निरीक्षक रणजीत सिंह सिसोदिया व विजयसिंह दोपहर तक मौके पर पहुंचे। उनके द्वारा मौके पर एफआईआर प्रेषित की गई। मौके पर ओड़ा पेट्रोल पंप के मालिक व कर्मचारियों को मय इन्वेस्टीगेशन बॉक्स के बुलाया गया। उनके द्वारा उक्त तरल पदार्थ की डेन्सिटी को मापा गया तो उनकी डेन्सिटी शून्य आई। इस प्रकार उक्त रासायनिक पदार्थ पेट्रोल या डीजल न होकर अवैध केमिकल निकला। मौके पर ही तीन सैम्पल लिए गए। इसके बाद टेंकर एवं ड्रम व उपकरणों को लेकर थाने पर आए व प्रर्वतन निरीक्षक द्वारा प्रकरण दर्ज कराया गया।
गुजरात से जुड़े हैं तार
पूछताछ में यह सामने आया कि उक्त तीनों आरोपी गुजरात में भी लॉकडाउन से पहले यही कार्य करते थे। लॉकडाउन लगने के बाद उक्त कार्य ओड़ा सर्कल में करने लगे। आरोपियों द्वारा माल गुजरात से मंगवाया जाता है। पहले ये लोग 50-60 रुपए प्रति लीटर वहां से माल खरीदते हैं उसके बाद यहां पर उक्त माल 70-80 रुपए में विक्रय करते हैं।
यह थी पुलिस टीम
पुलिस टीम में हैड कांस्टेबल आनन्दसिंह, इन्द्रसिंह, पप्पूलाल, रामभरोसे, प्रदीपसिंह तथा कांस्टेबल नरेन्द्र कुमार, दीपकसिंह, चन्द्रशेखर, सुनील, हरलाल, मुकेश एवं सुरेन्द्र शामिल थे।

jitendra paliwal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned