तेज धारधार हथियारों से हमला करने वाले 8 आरोपी गिरफ्तार

- रेत दोहन रोकने गए युवक पर किया था हमला
- पीपली आचार्यान का मामला

By: Rakesh Gandhi

Updated: 07 Sep 2020, 02:32 PM IST

राजसमंद. पिछले दिनों पीपली आचार्यान में रेती दोहन करने से रोकने पर युवक पर किए गए प्राणघातक हमले के मामले में आठ आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें पुलिस रिमाण्ड पर भेज दिया गया।
पुलिस ने बताया कि घायल युवक की मां अणछी पत्नी रामाजी राव निवासी पीपली आचार्यान ने कांकरोली थाना में रिपोर्ट देकर बताया था कि 2 सितम्बर की रात उसका पुत्र भरत राव बनास नदी में उसके खेत पर रखवाली के लिए गया था। वहां कुछ लोगों को जेसीबी से रेती का दोहन कर डम्पर व टैक्टर भर रहे थे। इस पर टोका तो भरत पर कैलाश, नानालाल, रतनलाल एवं कुछ अन्य लोगों ने लकड़ी, तलवार व फावड़े व लातों-मुक्कों से हमला कर दिया, जिससे वह लहुलुहान था। वह उदयपुर में राजकीय महाराणा भोपाल चिकित्सालय में भर्ती है। इस रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की व घटना स्थल का निरीक्षण कर बयान की कार्यवाही पूरी की।
घटना की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार व पुलिस उप-अधीक्षक गोपालसिंह भाटी के सुपरविजन तथा थानाधिकारी योगेन्द्र कुमार व्यास के नेतृत्व में टीम नियुक्त की गई। टीम ने मोबाइल लोकेशन एवं संदेह के आधार पर चम्पालाल (46) पिता कालूलाल निवासी सालरमाला मोही थाना कांकरोली, प्रकाश पिता धन्नालाल (30) जाति गमेती निवासी तरसिंगडा थाना कांकरोली, शब्बीर (23) पिता युसूफ मोहम्मद जाति मंसुरी निवासी बाघपुरा थाना कांकरोली, रफीक (28) पिता रज्जाक निवासी माणकचोक राजनगर थाना राजनगर, राकेश (25) पिता चम्पालाल जाति गमेती निवासी दडा मोही थाना कांकरोली, किशन (19) पिता पप्पूलाल जाति गमेती निवासी सालरमाला, मोही थाना कांकरोली, जगदीश (21) पिता भंवरलाल जाति गमेती निवासी मुण्डोल थाना राजनगर व मुकेश पिता चम्पालाल जाति गमेती निवासी सालरमाला मोही थाना कांकरोली को थाने पर तलब कर पूछताछ की तो अभियुक्तों ने बताया कि 2 सितम्बर की रात में नदी में चोरी छिपे रेत भरते समय भरत राव के द्वारा रेत नहीं भरने व रुपए मांगने पर विवाद होने पर उन्होंने भरत राव के साथ लकडिय़ों, फावड़े एवं लातों व मुक्कों से मारपीट की। इस पर अभियुक्तों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया, जहां उन्हें रिमाण्ड पर भेज दिया गया।

Rakesh Gandhi Editorial Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned