scriptArrangements will be made for the upbringing of helpless children | मां की हत्या के बाद बूढ़ी दादी पर आश्रित बच्चों की परवरिश का होगा बंदोबस्त | Patrika News

मां की हत्या के बाद बूढ़ी दादी पर आश्रित बच्चों की परवरिश का होगा बंदोबस्त

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने मांगी परिवार की रिपोर्ट, दिव्यांग पत्नी की हत्या का आरोपी रिमाण्ड पर, सात बच्चों में से एक पहले ही बालगृह में

राजसमंद

Published: February 17, 2022 11:20:49 pm

राजसमंद. पत्नी की हत्या के बाद लगभग बेसहारा हो चुके बच्चों की शिक्षा और परवरिश के उपाय करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने मामले का संज्ञान लेते हुए पैरालीगल वॉलंटियर से पीडि़त परिवार की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। कांकरोली थाना क्षेत्र के तरसिंगड़ा निवासी दिव्यांग महिला वाली बाई (35) की उसी के कथित पति ने मंगलवार रात शराब के नशे में लकड़ी से वार कर निर्मम हत्या कर दी थी। वारदात की अगली सुबह आरोपी पति ने गुपचुप उसके अंतिम संस्कार की तैयारी भी कर ली थी। आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर गुरुवार को अदालत में पेश किया, जहां से उसे 20 फरवरी तक पुलिस रिमाण्ड पर सौंपा गया है।
थानाधिकारी लक्ष्मणराम विश्नोई ने बताया कि पति मिट्ठूदास रंगास्वामी (45) और वाली बाई के बीच खाना नहीं बनने को लेकर झगड़ा हुआ था। फिर लट्ठ से उसके सिर, कूल्हों और गुप्तांगों पर वार किए, जिससे रात में उसकी मौत हो गई थी।
rj1723_1.jpg
मां की हत्या के बाद बूढ़ी दादी पर आश्रित बच्चों की परवरिश का होगा बंदोबस्त,मां की हत्या के बाद बूढ़ी दादी पर आश्रित बच्चों की परवरिश का होगा बंदोबस्त,
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने लिया संज्ञान
मामले में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव मनीष कुमार वैष्णव ने प्रसंज्ञान लेकर पीएलवी निलीषा साहू को पीडि़त परिवार के संबंध में विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया है। इस परिवार में 7 बच्चे हैं, जो उनकी बूढ़ी दादी के सहारे हैं। वैष्णव ने पैरालीगल वॉलन्टियर को पीडि़त परिवार से व्यक्तिगत संपर्क कर बालकों को मिल रही सरकारी योजनाओं, उनकी आर्थिक स्थिति, शैक्षणिक स्थिति, पारिवारिक स्थिति एवं तात्कालिक सहायता प्रदान करने के संबंध में विस्तृत रिपोर्ट प्राधिकरण को अविलम्ब मुहैया कराने को कहा है। पीडि़त परिवार को जरूरत के अनुसार नियमानुसार सहायता दी जा सकेगी। बाल कल्याण समिति अध्यक्ष कोमल पालीवाल ने बताया कि इस परिवार के एक बच्चे को जरूरत के मुताबिक पहले ही आश्रय दिया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

कर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मभाजपा प्रदेश अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर बड़ा हमला, कहा - 'जब तक सत्ता से बाहर नहीं करेंगे, तब तक चैन से नहीं सोएंगे'VIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मIPL के बाद लियम लिविंगस्टोन ने इस टूर्नामेंट में जड़ा सबसे लंबा छक्का, देखें वीडियोओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.